MBA Full Form In Hindi

एमबीए का फुल फॉर्म और कोर्स की पूरी जानकारी हिंदी में

MBA का फुल फॉर्म (MBA Full Form in Hindi) Master of Business Administration होता है। जिसे हिंदी में व्यवसाय प्रवंध में स्नातकोत्तर कहा जाता है।

MBA यानि Master of Business Administration, ये भारत और विदेशों में सबसे लोकप्रिय पोस्ट में से एक है। 2 साल का ये पोस्ट ग्रेजुएशन प्रोग्राम मुख्यरूप से प्रवंधकारी स्तर पर नौकरी के अवसरों का अधिकतर प्रवेशद्वार है।

विज्ञान, कॉमर्स, मानविकी यह सभी स्ट्रीम के छात्र इसमें आगे बढ़ सकते हैं। एक रेगुलर एमबीए या पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा आमतौर पर 2 साल का होता है जिसे 4 या 6 सेमेस्टर में विभाजित किया जाता है। छात्र रेगुलर ऑनलाइन या दुरस्त शिक्षा से बिभिन्न तरीकों से एमबीए कर सकते हैं।

जो भी छात्र MBA की मास्टर डिग्री करने में रूचि रखते हैं उनमे कुछ क्वालिफिकेशन होने चाहिए। जैसे की छात्र ग्रेजुएशन के बाद MBA कर सकते हैं फिर चाहे आपने जिस भी स्ट्रीम से ग्रेजुएशन पूरा किया हो।

ग्रेजुएशन में छात्र कम से कम 50% स्कोर से पास होना अनिवार्य है। और इसके साथ ही अंतिम वर्ष की ग्रेजुएट उमीदवार भी MBA के लिए आवेदन कर सकते हैं। परन्तु इसके लिए उन्हें संस्थान से निर्धारित अवधि के भीतर ग्रेजुएशन की डिग्री पूरी करने का प्रमाण देना होता। है.”

MBA कॉलेज में प्रवेश पाने के लिए कुछ MBA के लिए एंट्रेंस एग्जाम होते हैं। जैसे कि CAT, CMT, MAT एग्जाम जो बिभिन्न कॉलेज में प्रवेश के लिए मान्य है। उमीदवार को इन प्रवेश परीक्षाओं को पास करना होता है। उसके अनुसार आपको कॉलेज दिया जाता है।

MBA 2 साल का कोर्स होता है तथा इसमें 4 से लेकर 6 सेमेस्टर शामिल होते हैं। इसमें आपको व्यवसाय से सम्बंधित पढाई करवाई जाती है  तथा कोर्स के साथ-साथ कुछ प्रोग्राम भी होते हैं जो कि छात्र समय-समय पर अपनी पसंद के अनुसार सुन सकते हैं और कर सकते हैं।

MBA Program – – Executive MBA Program – MBA Program – Full-Time Executive Program – 2 Year Full Time MBA Program – Part-Time MBA – Evening (Second Shift) MBA Program – Modular MBA Program

MBA करने वाले छात्रों को अपने दूसरे साल में अपनी स्पेशलाइज़शन के अनुसार ही MBA कोर्स की चयन करना पड़ता है। चलिए हम आपको कुछ सब्जेक्ट्स और कोर्स के बारे में बताते हैं जिसे आप चुन सकते हैं।

MBA कोर्स के लिए कुछ Subjects – – Marketing – Finance – Human Resource – Operation – Supply Chain Management – Health Care Management – Information Technology – Rural Management – Agribusiness Management

MBA के बारे में डिटेल में जानने  के  लील्ये निचे क्लीक करे