CDS का फुल फॉर्म Combined Defense Service है

Combined Defense Service है यानि कि सम्मिलित रक्षा सेवा और इस एग्जाम को क्लियर कर लेने के बाद कैंडिडेट को इंडियन मिलिट्री, एयर फोर्स और नेवी में जॉब मिल जाती है।

CDS एग्जाम को क्लियर करके आप इन सर्विसेज में ऑफिसर की पोस्ट पा सकते हैं। 

हर साल इस एग्जाम में 4 लाख से भी ज्यादा कैंडिडेट्स हिस्सा लेते हैं और इनमे से बहुत कम कैंडिडेट्स सेलेक्ट होते हैं। इस एग्जाम में रिटर्न टेस्ट और इंटरव्यू की बेस पर सिलेक्शन होता है।

CDS एग्जाम के लिए अप्लाई करने वाले कैंडिडेट्स भारत, नेपाल या भूटान के होने चाहिए।

CDS एग्जाम को क्लियर करने के लिए आपको कौन से स्टेजेस क्लियर करने होंगे? – रिटन टेस्ट को क्वालीफाई करना – इंटरव्यू में अपीयर होना

दोनों स्टेप्स को क्लियर करने के बाद आप इन जगहों में से किसी एक के लिए सेलेक्ट होंगे – – Indian Military Academy, Dehradun – Naval Academy, Goa – Air Force Academy, Begumpet – Officers Training Academy, Chennai

CDS एग्जाम क्रैक करने के लिए कैंडिडेट का फिजिकली और मेंटली फिट होना बहुत जरुरी है। इसमें Eyes, Height और Weight रिलेटेड कंडीशंस फुलफिल होनी चाहिए।

कैंडिडेट की फिजिकल एलिजिबिलिटी से जुडी बहुत सारी कंडीशंस होती है, जिन्हें क्लियर करने वाले कैंडिडेट को ही सेलेक्ट किया जाता है।

CDS एग्जाम के लिए अप्लाई करने से पहले इससे जुड़ी हर एक कंडिशस और क्राइटेरिया को अच्छे से समझ लें ताकि आपको किसी तरह की कोई भी परेशानी का सामना न करना पड़े।