How to Become a Bank Manager | बैंक मैनेजर कैसे बने सम्पूर्ण जानकारी

How to Become a Bank Manager: आज का यह लेख उन लोगों के लिए बहुत ही खास है जो Bank Manager बनना चाहते हैं या फिर Bank Manager बनने की तैयारी कर रहे हैं। हमारे देश में बैंक मैनेजर एक रेस्पेक्टेड प्रोफेशन माना जाता है जिसमे सामाजिक प्रतिष्ठा के साथ साथ अच्छा वेतन भी मिलता है। इस लेख में हम विस्तार से जानेंगे कि बैंक मैनेजर क्या होता है? बैंक मैनेजर बनने के लिए क्या क्या योग्यता चाहिए? उसके लिए क्या एंट्रेंस एग्जाम होती है? जॉब स्कोप और सैलरी कितनी मिलती है? इत्यादि विषय के बारे में हम बात करेंगे।

बैंक मैनेजर क्या होता ही? (What is Bank Manager)

कोई भी बैंक होती है तो उसकी कई सारी शाखाएं होती है। जिसको ब्रांच भी कहते हैं। और उन ब्रांचेज का एक हेड होता है  जो कि पुरे ब्रांच का संचालन करता है। किसको लोन देनी है, लोगों को क्या नयी सेवाएं देनी है, बैंक सही से चल रहा है या नहीं इत्यादि। और उस हेड को ही Bank Manager कहा जाता है। और इसलिए यह जॉब इतनी पॉपुलर है और युवाओं में इसका इतना चर्चा है। Bank Manager एक तरह से लीडर होता है।

बैंक मैनेजर कैसे बने? (How to Become a Bank Manager)

1 . Eligibility Criteria

एजुकेशन क्वालिफिकेशन की बात करे तो फिर आपका किसी भी स्ट्रीम में या किसी भी सब्जेक्ट में अंडर ग्रेजुएशन कम्पलीट होना चाहिए। चाहे आपने B.com किया हो, B.A किया हो, BSc किया हो या B.Tech किया हो। आप बैंक मैनेजर बन सकते हैं।

2. Age Limit

ऐज की बात करे तो आपकी ऐज 21 साल से 30 साल के बीच में होनी चाहिए। और उसमे भी आपको रिलैक्सेशन मिल जाता है।

3. No Criminal Record

तीसरा जो मैन क्राइटेरिया है वह यह ही कि आपका क्रिमिनल रिकॉर्ड साफ होना चाहिए। आपके ऊपर कोई भी केस वेस नहीं होना चाहिए।

अगर आप यह 3 एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया फुल फील करते हैं तो फिर आप किसी भी बैंक में जॉब करने के लिए एलिजिबल हो जाते हैं।

 

बैंक पीओ का एग्जाम (Bank PO Exam)

PO का फुल फॉर्म  Probationary Officer होता है। किसी भी बैंक में जॉब करने के लिए आपको PO का एग्जाम देना ही होता है। हमारे इंडिया में दो तरह के बैंक है। एक प्राइवेट और दूसरा गवर्नमेंट।

प्राइवेट बैंक (Private Bank)

प्राइवेट बैंक की बात करे तो HDFC Bank, Axis Bank, ICICI Bank, Kotak Mahindra Bank और Yes Bank जैसे बैंक्स प्राइवेट बैंक्स है। अगर आपको प्राइवेट बैंक में जॉब करनी है  एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया तो सेम रहेगा लेकिन Bank PO का एग्जाम अपने अपने हिसाब से अपने खुद के Bank PO के एग्जाम ऑर्गनाइज़ करवाती है। जैसे कि HDFC Bank PO  का एग्जाम वह खुद से लेती है। जिसके बारे वे अपने वेबसाइट पर मेंशन करके रखती है। जिसका नोटिफिकेशन और डिटेल वह अपनी खुद की वेबसाइट पर डालती है। बाकि सारे प्राइवेट बैंक्स के लिए भी यह सेम चीज है। सारे बैंक्स अपनी Bank PO की एग्जाम डिटेल वेबसाइट पर डाल देती है।जैसे ही आप Bank PO की एग्जाम क्लियर करते हैं आपको सीधा Bank Manager नहीं बनाया जाता। सबसे पहले आपको ट्रेनिंग दी जाती है। जनरली प्राइवेट बैंक्स में यह ट्रेनिंग एक साल की होती है। ट्रेनिंग कम्पलीट करने के बाद आपको बैंक मैनेजर के अलावा कोई भी दूसरी पोस्ट दी जाती है। जैसे Relationship Officer, Probationary Officer, Assistant Branch Manager या फिर Assistant Bank Manager इत्यादि। फिर जब आप 3-4 साल का एक्सपीरियंस गेन करते हैं तो फिर आपके एक्सपीरियंस के हिसाब से आपको प्रमोशन देकर Bank Manager की पोस्ट दी जाती है। तब जाकर आप एक Bank Manager बन सकते हैं।

प्राइवेट बैंक मैनेजर सैलरी (Private Bank Manager Salary)

शुरुवात में आपको 30,000 से 40,000 प्रति महीना सैलरी मिल जाती है। कुछ साल एक्सपीरियंस लेने के बाद जब आप एक Bank Manager बनते हैं तो फिर आपकी सैलरी करीब 60,000  से लेकर 70,000 प्रति महीना हो जाता है। डिपेंट करता है बैंक और ब्रांच के ऊपर। अगर कोई बड़ी ब्रांच है तो फिर आपकी सैलरी 1 लाख रूपए भी हो सकती है। तो इस तरह आप प्राइवेट बैंक में Bank Manager बन सकते हैं।

गवर्नमेंट बैंक (Government Bank):

गवर्नमेंट बैंक की बात करे तो Bank of India, Bank of Baroda, Indian Bank, Union Bank of India, Central Bank of India और SBI जैसी बैंक गवर्नमेंट बैंक है। गवर्नमेंट बैंक में जॉब करने के लिए भी आपको Bank PO की एग्जाम देनी होती है। लेकिन गवर्नमेंट बैंक में हर बैंक के लिए आपको अलग से Bank PO की एग्जाम नहीं देने होते हैं। कोई भी गवर्नमेंट बैंक में जॉब करने के लिए आपको एक ही एग्जाम देनी होती है, वह होती है IBPS एग्जाम।  IBPS का पूरा नाम Institute of Banking Personnel Selection है। इसमें SBI अपनी बैंक की Bank PO की एग्जाम अलग से देता है। जिसका नोटिफिकेशन वह अपने वेबसाइट पर देते हैं। तो गवर्नमेंट बैंक में Bank Manager बनने के लिए आपको IBPS का एग्जाम क्लियर करना होगा। गवर्नमेंट बैंक में भी जब आप IBPS या फिर SBI PO की एग्जाम क्लियर कर देते हैं तो सीधा आपको Bank Manager नहीं बनाया जाता। सबसे पहले आपको कोई ऐसी पोस्ट दी जाएगी जो कि Bank Manager के अंडर में आती हो। जैसे कि Assistant Branch Manager, Assistant Bank Manager या फिर Probationary Officer और इसमें भी आपको 3-4  साल का एक्सपीरियंस गेन करना होगा फिर आपका प्रमोशन होगा और फिर आपको बैंक मैनेजर  की पोस्ट दी जाएगी।

गवर्नमेंट बैंक मैनेजर सैलरी (Government Bank Manager Salary)

अगर हम बात करे सैलरी की तो गवर्नमेंट सेक्टर में आपको स्टार्टिंग में 30,000 से 40,000 प्रति महीना सैलरी मिल जाती है। और फिर जैसे जैसे आपका एक्सपीरियंस बढ़ता है वैसे वैसे आपकी सैलरी भी बढ़ती जाएगी और एक्सपीरियंस के  60 – 70 हजार या फिर 1 लाख तक की सैलरी भी मिल जाती है।

तो इस तरह से आप प्राइवेट बैंक और गवर्नमेंट बैंक में बैंक मैनेजर बन सकते हैं।

तो इस लेख में मैंने स्टेप बाई स्टेप पूरी प्रोसेस बताई कि How to Become a Bank Manager यानि आप बैंक मैनेजर कैसे बन सकते हैं। उम्मीद करते हैं आपको यह जानकारी पसंद आयी होगी और अगर आपको यह जानकारी पसंद आयी हो तो इसे अपने दोस्तों को जरूर शेयर करे।

 

यह भी पढ़े: –

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.