TET Full Form: TET का फुल फॉर्म और इससे जुड़ी पूरी जानकारी

TET Full Form: आज हम इस पोस्ट में जिस फुल फॉर्म के बारे में जानेंगे वह है TET Full Form यानि TET का फुल फॉर्म क्या होता है? और साथ ही आपको TET से जुड़ी सारी जानकारी भी देंगे। तो चलिए शुरू करते हैं।

TET का फुल फॉर्म (TET Full Form in Hindi)

TET का फुल फॉर्म Teacher Eligibility Test होता है। हिंदी में इसे हम शिक्षक पात्रता परीक्षा कहते हैं।

TET क्या है? (What is TET?)

TET एक तरह की परीक्षा होती है। अगर आप एक गवर्नमेंट स्कूल में टीचर बनना चाहते हैं तो तब आपको TET एग्जाम क्लियर करना होता है। तभी आप गवर्नमेंट स्कूल में टीचर बनते हैं। और यह जो आप टीचर बनते हैं उसके लिए आपका क्लास 1st से लेकर 8th तक का रहता है। आप क्लास 1st से लेकर 8th तक के अगर किसी भी गवर्नमेंट स्कूल में टीचर बनना चाहते हैं तब आपको पहले TET एग्जाम क्लियर करना होता है। तभी आप आप जो गवर्नमेंट स्कूल है उनके लिए आप आवेदन कर सकते हैं।

TET Full Form: TET का फुल फॉर्म और इससे जुड़ी पूरी जानकारी
 

अब यह जो TET  रहते हैं इसमें 2 टाइप्स के एग्जाम रहते हैं। एक तो C TET रहता है और दूसरा TET होता है स्टेट लेवल का। मतलब अलग स्टेट वाइज निकलता है। अगर आप TET एग्जाम देते हैं स्टेट लेवल का तो जिस स्टेट से आप एग्जाम क्लियर करते हैं उसी स्टेट में जब गवर्नमेंट स्कूल में वैकेंसीज आती है तब हम वहां पर आवेदन करते हैं। लेकिन अगर आप C TET क्लियर करते हैं तो यह सेंट्रल लेवल का रहता है और नेशनल लेवल पर आपको कहीं भी वैकेंसीज आती है गवर्नमेंट स्कूल में, वहां पर आप आवेदन कर सकते हैं। तो हम बात करते हैं उस TET के बारे में जो स्टेट लेवल का रहता है। आप जिस  भी स्टेट से बिलोंग करते हैं या जहाँ से भी आप यह TET एग्जाम क्लियर कर लेते हैं, वहां के गवर्नमेंट स्कूल के लिए आप एलिजिबल हो जाते हैं और वैकेंसीज आने पर आवेदन कर सकते हैं।

TET के लिए योग्यता (TET Eligibility)

अगर आप TET एग्जाम क्लियर कर लेना चाहते हैं या देने चाहते हैं तो इसके  लिए एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया है –

  • 12th pass + BEd
  • Graduation + BEd

अगर आपने BEd कोर्स नहीं किया है, इसकी जगह आपने कोई डिप्लोमा कोर्स किया हुआ है तब भी आप एलिजिबल रहते हैं TET एग्जाम देने के लिए। अगर आपके यह कोर्स कम्पलीट हो जाते हैं तब भी आप एलिजिबल हैं या आप इसके लास्ट ईयर कर रहे हैं तब भी आप TET एग्जाम देने के लिए अप्लाई कर सकते हैं। लेकिन यहाँ पर जो एजुकेशन पॉलिसी आयी है उसमे कुछ BEd को ले करके चेंजिंग की गई है। BEd यहाँ पर 4 साल तक का कर दिया गया है आफ्टर 12th .

आयु सीमा और सिलेक्शन प्रोसीजर  (Selection Procedure and Age Limit)

यहाँ पर अगर आप TET एग्जाम देते हैं तो मिनिमम 18 और मैक्सिमम 35 साल ऐज लिमिट रखी गई है। यह जनरल केटेगरीज़ के लिए है।  जो रिज़र्व केटेगरी से बिलोंग करते हैं उनको रेलेक्ससेशन मिल जाता है। आप जिस भी केटेगरीज़ से बिलोंग करते हैं उसके अकोर्डिंगली आपको रेलेक्ससेशन यहाँ पर मिल जाता है। पेपर 1. पेपर 2 और इंटरव्यू यह जो पेपर 1 और पेपर 2 है यह अभी तक करते रहते आ रहे थे लेकिन अब इसमें न्यू एजुकेशन पॉलिसी के अकॉर्डिंग इंटरव्यू भी ऐड कर दिया गया है। यह इंटरव्यू आपके लोकल लैंग्वेज में लिया जायेगा।

पेपर 1 जो रहता है, वो क्लास 1 से लेकर 5th तक के लिए होता है। अगर आप क्लास 1 से लेकर 5th तक का आप टीचर बनना चाहते हो तब आप यह पेपर देते हैं।  फिर आता है पेपर 2 आपका रहेगा  6th से लेकर 8 तक का। तो अगर आप 8th तक के क्लास का टीचर बनना चाहते हैं तो आप पेपर 2 देंगे और अगर आप 1 से लेकर 5th तक के बच्चों को पढ़ाना चाहती है तो आप पेपर 1st देंगे। लेकिन अगर आप 1st से लेकर 8th तक के ही बच्चों को पढ़ाना चाहते हैं तब आप दोनों पेपर भी दे सकते हैं। तो यह था सिलेक्शन प्रोसीजर।

एग्जाम पैटर्न और सिलेबस (Exam Pattern and Syllabus)

Paper 1
Child development and pedagogy 30 30
Language I 30 30
Language I I 30 30
Envioronmental 30 30
Mathematics 30 30
Total 150 150

 

Paper II
Child development and pedagogy 30 30
Language I 30 30
Language I I 30 30
Social science, science, or mathematics 60 60
Total 150 150

 

तो फ्रेंड्स, इस पोस्ट में आपने जाना TET का फुल फॉर्म (TET Full Form) और TET से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण जानकारियाँ। अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों को भी जरूर शेयर ताकि उन्हें भी TET परीक्षा के बारे में डिटेल में पता चले।

 

यह भी पढ़े: –

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.