NEET Full Form: NEET क्या है और कैसे तैयारी करें? | NEET Exam Details in Hindi

NEET Full Form: हेलो फ्रेंड्स, मेरे इस ब्लॉग पर आपका स्वागत है जहाँ पर आपको मिलती है तरह तरह की काम की जानकारी। तो आज हम जिस विषय में बात करेंगे वो है NEET Full Form के बारे में यानि नीट का फुल फॉर्म। और साथ ही जानेंगे नीट (NEET) के बारे में पूरी जानकारी। तो चलिए जान लेते हैं।

NEET Full Form: NEET क्या है और कैसे तैयारी करें?

 

नीट का फुल फॉर्म – NEET Full Form in Hindi

बहुत से लोग NEET के बारे में तो जानते हैं लेकिन उन्हें NEET का फुल फॉर्म ही नहीं पता होता है। तो NEET का फुल फ्रॉम National Eligibility Entrance Test होता है।

नीट क्या है? – What is NEET?

NEET – UG एक एंट्रेंस एग्जाम है। यह एग्जाम उन छात्रों के लिए होता है जो भारत में क्रमश किसी गवेर्नमेंट या प्राइवेट मेडिकल कॉलेज और डेंटल कॉलेज में अंडरग्रेजुएट मेडिकल कोर्स जैसे कि MBBS और डेंटल कोर्स BDS का अध्ययन करना चाहते हैं।

नीट के लिए आयु सीमा – Age Limit for NEET

अब सवाल आता है कि विद्यार्थी कितने वर्ष का होना चाहिए जिससे विद्यार्थी NEET का एग्जाम दे सकते हैं। NEET के लिए आवेदन करने वाले उम्मीद्वार की नुन्यतम आयु 17 साल होनी चाहिए। और आखिल भारतीय सीटों के कोटा के अनुसार साथ ही राज्य कोटा के सीटों के लिए भी लागु होता है। अनुसूचित जाती (SC), अनुसूचित जनजाति (ST), और अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) के लिए आयु सीमा में कुछ वर्षों की छूठ दी जाती है।

नीट के लिए योग्यता – Eligibility for NEET

NEET में प्रवेश लेने के लिए भौतिक विज्ञान (Physics), रसायन विज्ञान (Chemistry), और जीव विज्ञान (Biology) में सामान्य श्रेणी के उम्मीद्वारों का 12 वीं में कुल प्रतिशत  50% होना चाहिए। छात्रों को 12 वीं या समकक्ष परीक्षा के PCB यानि Physics, Chemistry और Biology में नुन्यतम 50% अंक सामान्य छात्रों को होने चाहिए। 45% अंक सामान्य श्रेणी के विक्लांत छात्रों के लिए निर्धारित किया गया है। तथा 40% अंक अनुसूचित जाती अनुसूचित जाती (SC), अनुसूचित जनजाति (ST), तथा अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) के लिए प्राप्त करना जरुरी होता है। इन सभी योग्यता के साथ ही एक विद्यार्थी NEET की परीक्षा दे सकता है।

नीट की एग्जाम से किन किन कॉलेज में एडमिशन मिलता है? – Which Colleges Get Admission Through NEET Exam?

भारत के 3 मेडिकल कॉलेज AIIMS, GIPMER एवं AFMS को छोड़कर बाकि सभी गवर्नमेंट एवं नॉन गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज में एवं डेंटल कॉलेजेस में एडमिशन सिर्फ और सिर्फ NEET की परीक्षा के आधार पर होता है। गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेजेस में भारत सरकार का कोटा 50% का होता है। जब की राज्य सरकारों का कोटा 85% का होता है। प्राइवेट मेडिकल और डेंटल कॉलेजेस में एडमिशन भारत के किसी भी छात्र का हो सकता है। इसमें राज्यों का कोटा निर्धारित नहीं होता। सभी तरह के कोटा को NEET एग्जाम के द्वारा ही स्टूडेंट्स को एडमिशन मिलता है चाहे वह राज्य सरकार का कोटा हो या फिर केंद्र सरकार का कोटा या फिर कॉलेज पप्राइवेट ही क्यों ना हो।

नीट एग्जाम के प्रकार –

NEET की इतनी जानकारी प्राप्त अब आता है NEET परीक्षा के प्रकार। NEET दो प्रकार के होते हैं। NEET की परीक्षा में पहला प्रकार NEET UG और दूसरा NEET PG होता है। NEET UG परीक्षा का आयोजन MBBS और BDS Undergraduate कोर्स में होता है। जब की NEET PG परीक्षा का आयोजन MS MD Post Graduation कोर्स के लिए किया जाता है।

 

तो फ्रेंड्स, इस पोस्ट में आपने जाना नीट का फुल फॉर्म (NEET Full Form) और NEET से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण जानकारियाँ। अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों को भी जरूर शेयर ताकि उन्हें भी NEET परीक्षा के बारे में डिटेल में पता चले।

 

यह भी पढ़े: –

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.