PHD Full Form: पीएचडी का फुल फॉर्म क्या है?

PHD Full Form in Hindi: आपने बहुत बार देखा होगा कि बहुत सारे लोगों के नाम के आगे डॉक्टर लगा होता है और आपके मन में कभी ना कभी यह ख्याल जरूर आता होगा कि यह तो डॉक्टर है नहीं फिर भी इनके नाम के आगे डॉक्टर लगा होता है। यह तो पढ़ाते हैं या फिर या फिर ये किसी और प्रोफेशन है। तो इनके नाम के आगे डॉक्टर क्यों है। क्या कोई भी अपने नाम के आगे डॉक्टर लगा सकता है? जी नहीं दोस्तों, कोई भी अपने नाम के आगे डॉक्टर नहीं लगा सकता उसके लिए आपको PHD की पढाई करनी पड़ती है। तो आज के इस पोस्ट में हम जानेंगे कि PHD क्या है? PHD करने के लिए क्या योग्यता होने चाहिए? PHD की फीस कितनी होती है? PHD कोर्स कितने साल का होता है ? और PHD करने के क्या-क्या फायदे होते हैं? तो यह सारी बातें आज हम इस लेख में जानेंगे और यह लेख आपके लिए बहुत ही इम्पोर्टेन्ट होने वाला है इसलिए इसे अंत तक जरूर पढ़िए। तो चलिए अब हम इस पोस्ट को शुरू करते हैं।

PHD क्या होता है और PHD Full Form in Hindi

तो PHD का फूल फॉर्म होता है Doctor of Philosophy, जिसे शार्ट में हम Ph.D कहते हैं। इस कोर्स की जो अवधि होते हैं यह 3 साल से लेकर 5 साल तक होती है। PHD जनरली वही लोग करते हैं जिन्हे आगे चलकर रिसर्च फील्ड में अपना करियर बनाना हो या फिर जिन्हे टीचिंग में करियर बनाना हो उसके लिए PHD करना जरुरी होता है। अगर कोई PHD करता है तो कॉलेज में या फिर किसी यूनिवर्सिटी में जाकर पढ़ा सकता है।

PHD करने के लिए क्या योग्यता होने चाहिए?

अगर आप PHD करना चाहते हैं, अपने नाम के आगे डॉक्टर लगाना चाहते हैं तो उसके लिए जरुरी है कि आपका पोस्ट ग्रेजुएशन जरुरी होना चाहिए। पोस्ट ग्रेजुएशन कम्पलीट करने के लिए जरुरी है कि अपने 12 वी में अच्छे से पढाई की हो। उसके बाद आपने अपना ग्रेजुएशन कम्पलीट किया हो। उसके बाद अपने अपना पोस्ट ग्रेजुएशन भी कम्पलीट किए हो। ग्रेजुएशन में कम से कम आपके 50% और 60% मार्क्स होने चाहिए और अगर हम पोस्ट ग्रेजुएशन की बात करे तो इसमें अपने 60% मार्क्स होने ही चाहिए। किसी-किसी यूनिवर्सिटी में 55% में भी आपका एडमिशन हो जाता है लेकिन बहुत ही कम यूनिवर्सिटीज ऐसी है जो की आपको PHD करने के लिए डायरेक्ट एडमिशन देती है लेकिन मैक्सिमम यूनिवर्सिटीज में आपको NET क्वालीफाई चाहिए होता है। PHD करने के लिए आपजी एक चीज और ध्यान में रखनी चाहिए कि आप किसी एक सब्जेक्ट में आपकी पकड़ बहुत अच्छी हो ताकि आप उसमें बहुत ही एक्सपर्ट होने चाहिए। और उसके लिए जरुरु है कि आपने 10th के बाद जो सब्जेक्ट ली है उसी में आप 11, 12 पढाई करे, उसी में से कोई सब्जेक्ट लेकर आप ग्रेजुएशन में पढ़ाई करे और उसी में से  सब्जेक्ट लेकर आपको पोस्ट ग्रेजुएशन भी करना चाहिए। इससे फायदा यह होगा कि आप एक ही सब्जेक्ट को कई सालो तक पढ़ते रहेंगे और उसमे आपकी बहुत अच्छी समझ हो जाएगी और उस सब्जेक्ट के बारे में आपको बहुत ज्यादा नॉलेज आ जायेगा जो की आगे चलकर आपको बहुत फायदा होगा।

इन किताबों को जरूर चेक करें – 

 

PHD कोर्स की फीस कितनी होती है?

PHD कोर्स की जो फीस होती है वो बहुत ज्यादा वैरी करती है। यह डिपेंट करता है कोर्स डिउरेशन पर, यह डिपेंट करता है कोर्स यूनिवर्सिटीज पर कि आप कितने साल का PHD का कोर्स कर रहे हो, आप कौन सी यूनिवर्सिटीज से किस जगह पर PHD का कोर्स कर रहे हो लेकिन फिर भी मैं आपको  बताता हूँ जो PHD का कोर्स होता है यह आपको 15,000 से लेकर 2 लाख रुपये तक एक साल की इसकी खर्च हो सकती है। लेकिन बहुत सारे स्टूडेंट्स को यह कोर्स बिलकुल फ्री में करने को मिलता है। गवर्नमेंट की तरफ से उनको स्कॉलरशिप मिलती है जिसके माध्यम से वह यह कोर्स कर सकते हैं।

PHD करने के फायदे

PHD करने के तो बहुत सारे फायदे हैं लेकिन जो सबसे बड़ा फायदा है वह आप सभी को दीखता होगा कि अगर कोई PHD कर लेता है तो उसके नाम के आगे डॉक्टर लग जाता है जो कि बहुत ही ज्यादा इम्प्रेसिव लगता है। अगर हम करियर के पॉइंट ऑफ़ व्यू से बात करें कि PHD करने के बाद क्या-क्या करियर ऑप्शन होंगे आपके पास तो फ्रेंड्स आपके पास करियर ऑप्शन की कमी नहीं है। सबसे पहले अगर आप PHD कर लेते हैं तो आप एसिस्टेंट प्रोफेसर बन सकते हैं यानि कि आप किसी भी कॉलेज में किसी भी यूनिवर्सिटी में जाकर पढ़ा सकते हैं वहां पर और उसके साथ-साथ आप लेक्चरर भी बन सकते हैं। और जिस सब्जेक्ट में आपने PHD किया है उस सब्जेक्ट में आप रिसर्च में भी जा सकते हैं और अपना नाम बना सकते हैं। तो यह एक बहुत ही अच्छा करियर ऑप्शन हो सकता है और इसमें आपको बहुत अच्छी खासी सैलरी भी मिलती है।

इन किताबों को जरूर चेक करें – 

 

उम्मीद करते हैं आपको यह जानकारी (PHD Full Form in Hindi) जरूर पसंद आयी होगी अगर पसंद आए तो फिर इसे अपने फ्रेंड्स को भी जरूर शेयर करें और असेही और भी इन्फॉर्मेशनल पोस्ट और भी पाने के लिए हमारे ब्लॉग के नोटिफकेशन को जरूर ऑन कर दें।

यह भी पढ़े –

 

3 thoughts on “PHD Full Form: पीएचडी का फुल फॉर्म क्या है?

  1. Rohit Reply

    Kya graduate main 50% jaruri hai mera 47% hi hai… PhD admission ke liye to Master degree required hote hai… ?

Leave a Reply

Your email address will not be published.