राष्टीय शिक्षा दिवस क्यों मनाया जाता है?

राष्टीय शिक्षा दिवस क्यों मनाया जाता है? Why is National Educational Day Celebrated?

राष्टीय शिक्षा दिवस क्यों मनाया जाता है? Why is National Educational Day Celebrated? 

नमस्कार दोस्तों, हमारे ब्लॉग में आपका स्वागत है। दोस्तों यह लेख आप सभी के लिए बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण होने वाला है क्यों कि इस लेख में हम बात करने वाले हैं राष्टीय शिक्षा दिवस यानि National Educational Day के बारे में, तो चलिए शुरू करते हैं।

राष्टीय शिक्षा दिवस क्यों मनाया जाता है और इसकी पूरी कहानी – National Educational Day in Hindi 

राष्ट्रीय शिक्षा दिवस पुरे भारत में 11 नवंबर को मनाया जाता है। इस दिन की शुरुवात 2008 में हुई थी। इस दिन भारत के पहले शिक्षा मंत्री मौलाना अब्दुल कलाम आज़ाद का जन्म हुआ था और उनकी जयंती पर ही नेशनल एजुकेशनल डे यानि राष्ट्रीय शिक्षा दिवस मनाया जाता है।

मौलाना अब्दुल कलाम कौन थे?

मौलाना अब्दुल कलाम आज़ाद का जन्म 11 नवंबर 1888 को हुआ था। मौलाना अब्दुल कलाम आज़ाद स्वतंत्रता सेनानी शिक्षाविद और भारत के पहले शिक्षा मंत्री थे। उन्होंने 15 अगस्त 1947 से 2 फेब्रुअरी 1958 तक देश की सेवा की। मौलाना अब्दुल कलाम आज़ाद न केवल एक विद्वान थे बल्कि शिक्षा के माध्यम से राष्ट्र के निर्माण के लिए प्रतिबद्ध थे।

भारत में नेशनल एजुकेशन डे इनके जयंती के रूप में 2008 से मनाया जाता है। इस दिन इनके योगदानों और कार्यों से लोगों को अवगत कराया जाता है। स्कूलों में हर साल 11 नवंबर को राष्ट्रीय शिक्षा दिवस मनाया जाता है। छात्र और शिक्षक उस दिन शिक्षा के सभी पहलुओं पर राष्ट्र की प्रतिबद्धा के बारे में बात करने के लिए एक साथ आते हैं।

राष्ट्रीय शिक्षा दिवस भी मौलाना अब्दुल आज़ाद के द्वारा स्वतंत्र भारत की शिक्षा प्रणाली के क्षेत्र में किये गए सभी महान योगदानों  के लिए एक श्रद्धांजलि है।

शिक्षा क्यों जरुरी है?

शिक्षा हमारी जीवन का सफलता का  एक मूल्य आधार है मतलब साफ है कि शिक्षा के बिना कोई भी व्यक्ति जीवन में ज्ञान अर्जित नहीं कर सकता है और न केवल सफल हो सकता है। शिक्षा न सिर्फ मनुष्य के अंदर हर विषय के बारे में जानने और चीजों को सिखने-समझने की क्षमता विकसित करती है, बल्कि मनुष्य की शारीरिक, सामाजिक, आर्थिक और राजनैतिक रूप से भी विकाश करने में उसकी मदद करती है। शिक्षा से ही समाधान मिलता है और समाधान से सुख मिलता है। प्रत्येक व्यक्ति एक सुखी जीवन जीने के लिए ही हर प्रयत्न करता है। शिक्षा इंसान को ईश्वर से जोड़ता है और शिक्षा से व्यक्ति को परमआनंद की अनभूति होती है। शिक्षा आपको अंदर से ताकतपर बनाती है जिसकी बजह से आप बड़ी सी बड़ी मुसीबतों का सामना भी आसानी से कर पाते हैं।  जिंदगी  को खूबसूरत बनाने के लिए शिक्षा जरुरी है डिग्री नहीं। परन्तु आज के समय में हम शिक्षा कम और डिग्री ज्यादा ही अर्जित कर रहें हैं। इसलिए हमेशा शिक्षा पर फोकस करें।

तो दोस्तों आपको यह लेख “राष्टीय शिक्षा दिवस क्यों मनाया जाता है? Why is National Educational Day Celebrated?” कैसी लगी हमें कमेंट सेक्शन में जरूर बताए और यदि अच्छा लगे तो अपने दोस्तों को भी शेयर जरूर करे।

यह भी पढ़े –

अगर आपके पास भी कोई Hindi Kahani, Motivational Stories, Biography या फिर हमारे ब्लॉग से सम्बंधित कोई भी हिंदी आर्टिकल है और आप उसे हमसे शेयर करना चाहते हैं तो हमसे हमारे ईमेल आईडी के माध्यम से संपर्क जरूर करे, हम आपके उस आर्टिकल को आपके नाम और यदि आपके पास कोई ब्लॉग है तो उसके साथ पब्लिश करेंगे।

हमारी ईमेल आईडी – [email protected]

 

– हाल में किये गए नए पोस्ट पढ़े –

सेवा की कीमत | Seva ki Kimat Story in Hindi
अकबर बीरबल की कहानी: वे जो देख नहीं सकते | Akbar Birbal Story in Hindi
लक्ष्मी जी गणेश जी की कहानी – लक्ष्मी जी की कथा | Diwali ki Kahani
छठ में किसकी पूजा होती है? | Chhath Puja in Hindi
अकबर बीरबल की कहानी: दुनिया की सबसे बड़ी चीज क्या है? | Akbar Birbal Stories in Hindi

 

Follow Me on Social Media

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *