दस छोटे चूज़े | Ten Little Chicks Story in Hindi

दस छोटे चूज़े | Ten Little Chicks Story in Hindi

 Ten Little Chicks Story in Hindi

 

दस छोटे चूज़े 

एक बार एक फार्म में एक मुर्गी अपने दस छोटे बच्चों के साथ रहती थी। उनमें से पाँच बच्चे सफेद थे और पाँच भूरे थे। लेकिन यह बच्चे आपस में बिलकुल भी अच्छे दोस्त नहीं थे। सफेद बच्चे हमेशा भूरे बच्चों से लड़ते रहते थे बिना मतलब की छोटी छोटी चीजों के लिए।

 

मुर्गी अपने बच्चों को हमेशा समझाती रहती कि तुम सब भाई हो और एक ही माँ के बच्चे लेकिन फिर भी सफेद बच्चे और भूरे बच्चे हमेशा लड़ते रहते और अपनी माँ की भी बात नहीं सुनते।

 

  • जादुई टोपी की कहानी | The Magic Cap Story In Hindi

 

इस तरह हर रोज लड़ाई बढ़ती जा रही थी। वह बिलकुल हिंसक बन गए थे। सफेद और भूरे बच्चे अब एक साथ नहीं रहना चाहते। उन सबने अपनी माँ से कहा की वह लोग अब एक साथ नहीं रहेंगे वह लोग अलग रहेंगे। मुर्गी को उनकी बात माननी पड़ी।

 

उस रात, कुछ ऐसा हुआ जिसने सब कुछ बदलकर रख दिया। एक भेड़िया उस फार्म में घुस गया। सभी बच्चे बहुत डर गए। मुर्गी ने अपने बच्चों से कहा, “सुनो बच्चों, हमें घबराना नहीं है अगर हम एक साथ रहेंगे तो हम इस भेड़िया को हरा सकते हैं क्यूंकि वह एक हैं और हम इग्यारह। यह हम सबका आपस में लड़ने का समय नहीं हैं अब वक्त है एक साथ मिलकर उसे हराने का। याद रखना एकता में शक्ति है।”

 

 

सभी बच्चे अपनी माँ की बात मान गए और सारे मुर्गी के बच्चों ने भेड़िए पर हमला कर दिया। बच्चों की नुखीली चोंच से भेड़िया का बुरा हाल हो गया और वह डरके मारे भाग गया और कभी वापस उस फार्म में नहीं आया।

 

अगर आपको यह कहानी“दस छोटे चूज़े | Ten Little Chicks Story in Hindi” अच्छी लगी हो तो इसे अपने सभी दोस्तों के साथ भी शेयर करें और असेही और भी कहानिया पढ़ने के लिए इस ब्लॉग को सब्सक्राइब करें।

 

यह भी पढ़े 

चतुर मुर्ग और लोमड़ी की कहानी

दो सिर वाला पक्षी

बंदर और टोपीवाले की कहानी

मेंढक और बैल की कहानी

दो मछलियाँ और एक मेंढक

 

Follow Me on Social Media

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *