वैलेंटाइन डे क्यों मनाया जाता है | Valentine Day Story in Hindi

वैलेंटाइन डे क्यों मनाया जाता है | Valentine Day Story in Hindi

इस लेख में आज मैं बताने वाली हूँ वैलेंटाइन डे की असली कहानी (Valentine Day Story in Hindi), आखिर लोग वैलेंटाइन डे क्यों मनाते हैं? और इसके पीछे का क्या कारन है?

Valentine Day Story in Hindi

 

कहा जाता है की प्रेम के लिए कोई खास दिन की जरुरत नहीं है। प्रेम तो हर एक दिन किया जाना चाहिए। इस दुनिया को खूबसूरत बनाने के लिए प्रेम की आवश्यकता है। वैलेंटाइन डे 14 फेब्रुअरी को पुरे विश्व में मनाया जाता है प्रेम के दिवस के रूप में। वैलेंटाइन डे प्रेमी जोड़ो का दिन है। इस दिन प्रेमी जोड़े एक दूसरे के साथ समय बिताते है और उन्हें अपने प्यार का अहसास दिलाते हैं। ऐसे में क्या आपके दिल में कभी यह सवाल उठता है कि आखिर वैलेंटाइन डे सेलिब्रेट करने की परंपरा कब से शुरू हुई? इसका इतिहास क्या है?

 

कई लोगों का यह मानना है कि यह पश्चिमी देश का रीती है। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि वैलेंटाइन डे की एक दर्दनाक इतिहास है, जिसे सुनकर आपकी रूह काँप जाएगी। तो चलिए दोस्तों वैलेंटाइन डे की इतिहास को गहराई से जानते हैं।

 

यह है आज से 1700 साल पहले यानि तीसरी सदी की कहानी, जब प्राचीन रोम को एक शक्तिशाली साम्राज्य माना जाता था। उस वक्त रोम के राजा थे क्लॉडियस, जो की एक बहुत निर्दय किस्म के इंसान थे। वह अपनी क्रूरता से पूरी दुनिया में अपनी साम्राज्य फैलाना चाहता था।

 

एक बार क्लॉडियस ने यह जाँच करके पाया कि उसके राज्य में विवाहित युवाओं से अधिक अविवाहित युवाए ज़्यादा शक्तिशाली थे। तो उसने अपने पुरे राज्य में एक बहुत ही क्रूर नियम लागु किया। उन्होंने कहा की मेरे राज्य में किसी को भी शादी या प्यार करने की इजाज़त नहीं दी जाएगी।

 

राजा की इस निर्देश से पुरे रोम में दुख की वातावरण फैल गया। उस दौरान रोम में एक बहुत ही दिलवाले और प्यार को समझने वाले एक कैथोलिक प्रीस्ट रहा करते थे, जिनका नाम था सेंट वैलेंटाइन (Saint Valentin) . राजा की ऐसी क्रूर निर्देश उन्हें बहुत ही बेकार लगी और वह अंदर ही अंदर रोमन कपल्स को शादी करवाने लगी।

 

कुछ समय बात जब यह बात राजा क्लॉडियस को पता चला तब राजा ने सेंट वैलेंटाइन को सजा देने की हुकुम सुनाई। जब सेंट वैलेंटाइन जेल में थे तब वहाँ की जेलर की एक अँधी बेटी सेंट वैलेंटाइन से हर रोज मिलने को आती थी। फिर जेलर की बेटी से वैलेंटाइन को प्यार हो गया।

 

एक दिन शाम को वैलेंटाइन ने अपने प्यार भरी हाथो उस लड़की की अँधी आँखों को सहलाया। फिर एक चमत्कार हो गया। उस लड़की के आँखें पूरी तरह से ठीक हो गई। उसके बाद यह बात भी जब राजा क्लॉडियस को पता चला तब राजा क्लॉडियस वैलेंटाइन को फाँसी की सजा सुनाए।

 

जिस दिन सेंट वैलेंटाइन को फाँसी दी गई उस दिन वैलेंटाइन ने उस लड़की को चिट्ठी भेजा, जहाँ पर बस लिखा था From Your Valentine . जिस दिन वैलेंटाइन को फाँसी दी गई वह दिन था 14 फेब्रुअरी। 14 फेब्रुअरी ही वह दिन था  जब एक संत पूरी दुनिया को प्यार की ताकत समझाकर इस दुनिया से विदा ले ली। फिर उस दिन से पुरे रोम तथा पुरे विश्व में 14 फेब्रुअरी को प्यार-मोहब्बत की दिन के रूप में मनाया जाने लगा। सेंट वैलेंटाइन को याद करते हुए इस दिन का नाम पड़ा वैलेंटाइन्स डे (Valentines Day)

 

वैलेंटाइन डे क्यों मनाया जाता है | Valentine Day Story in Hindi
Valentine Day Story in Hindi

 

जिस तरह सेंट वैलेंटाइन ने इस दुनिया को प्यार-मोहब्बत की राह पर चलने की वार्ता देते हुए अपनी ज़िंदगी गवा दी उस तरह क्या हम अपने माता-पिता, भाई-बहन, दोस्त के साथ प्यार-मोहब्बत से रह नहीं सकते? वैलेंटाइन्स डे का मतलब सिर्फ गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड में प्यार नहीं, यह प्यार हम किसी के साथ भी कर सकते हैं अगर हम प्यार की असली मतलब समझे तो।

 

दोस्तों यह थी वैलेंटाइन डे की असली कहानी। उम्मीद है आपको यह लेख “वैलेंटाइन डे क्यों मनाया जाता है | Story Behind Valentine Day Celebration in Hindi” अच्छी लगी होगी। अगर आपको यह लेख अच्छी लगी तो कम्मेंट करके बताइए जरूर और इस ब्लॉग को भी सब्सक्राइब जरूर करें।

 

यह भी पढ़े 

रावण की असली कहानी | Real Story Of Ravana In Hindi

Real Story Of Jesus Christ In Hindi | ईसा मसीह की असली कहानी

पिरामिड की असली कहानी | The Real Story Of Pyramid In Hindi

ताजमहल का इतिहास और रहस्य | The Real History Of Taj Mahal In Hindi

दुनिया का सबसे बड़ा जहाज टाइटैनिक डूबने की कहानी

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *