बंदर और लकड़ी का खूंटा | The Monkey and The Wedge Story in Hindi

बंदर और लकड़ी का खूंटा | The Monkey and The Wedge Story in Hindi

The Monkey and The Wedge Story in Hindi

 

बंदर और लकड़ी का खूंटा 

बहुत समय पहले की बात है, एक शहर से कुछ ही दुरी पर एक मंदिर को बनाने का काम चल रहा था, जिसके लिए कई मजदूरों को रखा गया था। सारे मजदूरों को दो पहर का भोजन करने के लिए शहर जाना पड़ता था इसलिए दो पहर के समय 1 घंटे तक वहाँ कोई काम नहीं करता था।

 

एक दिन खाने का समय हुआ तो सारे मजदुर काम छोड़कर खाने के लिए चले गए। तभी वहाँ बंदरो का एक झुंड उछलता कूदता आया। एक लट्ठा आधा चीरा रह गया था। आधे चीरे लट्ठे में मजदुर लकड़ी का खूंटा फँसाकर चले गए। ऐसा करने से दुबारा आरी घुसाने में आसानी होती है।

 

बंदरो के झुंड में एक बहुत शरारती बंदर भी था, जो बिना मतलब चीज़ो से छेड़छाड़ करता रहता था। शरारते करना उसकी आदत थी। सारे बंदर फिर पेड़ो की और चल दिए पर वह शरारती बंदर सबकी नजर बचाकर पीछे रह गया और लगा अड़ंगेबाजी करने। उसकी नजर अध् चीरे लट्ठे पर पड़ी बस वह उसी पर लटक गया।

 

शरारती बंदर बीच में अड़ाए गए खूंटे को देखने लगा और खूंटे को पकड़कर उसे बाहर निकालने के लिए पूरा जोर लगाने लगा। बंदर खूब जोर लगाकर उसे हिलाने की कोशिश करने लगा। खूंटा जोर लगाने पर हिलने में खिसकने लगा तो बंदर अपनी शक्ति पर खुश हो गया। बंदर और जोर लगाकर खूंटा सरकाने लगा।

 

इस खींचातानी के बीच बंदर की पूंछ लकड़ी के दो फांटो के बीच आ गई थी जिसका उसे पता ही नहीं लगा। उसने उत्साहित होकर एक जोरदार झटका मारा और जैसे ही खूंटा बाहर खिंचा लट्ठे के दो चीरे भाग फटाक से क्लिप की तरह जुड़ गए और बीच में बंदर की पूंछ फँस गई।

 

उसी समय सारे मजदुर वहाँ लौटे और उन्हें देखते ही बंदर भागने के लिए जोर लगाने लगा। उसकी पूंछ टूट गई। वह टूटी पूंछ लेकर वहाँ से भागा।

 

इस कहानी से सीख, Moral of The Story:

इस कहानी से हमें यह सीख मिलती है की हमें कभी भी दुसरो के कामो में दखल नहीं देना चाहिए। दुसरो के काम में दखल देने से हम खुद परेशानी में पड़ सकते हैं।

 

आपको यह कहानी “बंदर और लकड़ी का खूंटा | Monkey and Wood Peg Story in Hindi” कैसी लगी निचे कमेंट जरूर करें और इस कहानी को दुसरो के साथ शेयर भी जरूर करे।

 

यह भी पढ़े 

मुर्ख मछुआरा | Murkh Machuara | Hindi Kahani

कौआ और बूढ़ी औरत | The Crow And The Old Woman Story In Hindi

एक हाथी और एक दर्जी | An Elephant And A Tailor Story In Hindi

जादुई पतीला | Jadui Patila Hindi Kahani

सोने का फल | The Golden Fruit Story In Hindi

 

 

Follow Me on Social Media

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *