घमंड किसी का नहीं टिकता | Best Motivational Story in Hindi

घमंड किसी का नहीं टिकता | Best Motivational Story in Hindi

Best Motivational Story in Hindi

 

आज के लेख में मैं आप सबको एक मोटिवेशनल स्टोरी के बारे में बताने वाली हूँ जो की है “घमंड किसी का नहीं टिकता | Best Motivational Story in Hindi” इस कहानी को पूरा जरूर पढ़े क्यूंकि यह कहानी आपके  जिंदगी में कुछ न कुछ बदलाव जरूर लाएगी और एक अच्छा सीख भी देगी।

 

घमंड की कहानी 

समुद्र किनारे बसे एक गाँव में एक धनवान सेठ रहता था। उस धनवान सेठ के पुत्रों ने एक कौआ पाल रखा था। सेठ के पुत्र रोज अपने भोजन से बचा कुछ अन्न कौए को दे देते थे। सेठ के घर की झूठन खा-खा कर वह कौआ कुछ ही दिनों में मोटा, ताजा और तंदरुस्त हो गया। सेठ के घर में भोजन मिलने से कौए का अहंकार बहुत बढ़ गया। अब कौआ अपने से श्रेष्ट पक्षियों को भी तुच्छ समझने लगा। वह अपने से श्रेष्ट पक्षियों का अपमान करने लगा।

 

एक दिन समुद्र किनारे एक हंसो का जोड़ा उड़ता हुआ आया और एक पेड़ पर जाकर बैठ गया। हंसो का जोड़ा बहुत ही खूबसूरत था। हंसो की ख़ूबसूरती देख सेठ के पुत्र हंसो की तारीफ करने लगे। यह बात कौए को पंसद नहीं आई। वह मन ही मन हंसो से इर्षा करने लगा। हंसो से इर्षा करते हुए दोनों हंसो में से जो सबसे ताकतपर हंस प्रतीत हुआ उसके पास गया।

 

हंसो के पास जाकर कौआ हंस के बोला, “तुम केवल ख़ूबसूरती में मुझसे अच्छे हो सकते हो लेकिन लेकिन ताकत में मैं तुमसे ज़ादा ताकतपर हूँ। मैं तुम्हारे साथ उड़ने की प्रतोयोगिता रखना चाहती हूँ।” हंसो ने कौए को समझाया कि वह उनके साथ प्रतियोगिता नहीं कर सकता क्यों की वह आसमान में बहुत दूर-दूर तक उड़ते हैं। उनके साथ प्रतियोगिता करने से उसे कोई लाभ नहीं होगा। वह उसके साथ प्रतियोगिता करके अपनी जान जोखिम में न डाले।

 

हंस की बात सुनकर कौआ गर्व से बोला, “मैंने उड़ने की सारी कलाएँ सीखी है। अपनी सीखी प्रत्येक कला से मैं लगभग सौ योजन ताल उड़ान भर सकता हूँ। तुम मेरी नहीं अपनी चिंता करो। क्या तुम मेरी बराबरी कर पाओगे?” हंस कौए की बात सुनकर मुस्कुराया और बोला, “मित्र, हो सकता है तुम उड़ने की कई कालाएँ जानते होंगे लेकिन मैं तो केवल एक कला जानता हूँ जिससे सभी पक्षी उड़ते हैं। मैं उसी कला से उड़ान भरूँगा।

 

हंस की बात सुनकर कौए का अभिमान और भी बढ़ गया। वह बोला, “हंस, तुमने जीवन में उड़ने की ज़ादा कलाएँ नहीं सीखी है इसलिए मैं तुम्हें आसानी से हरा दूँगा। अब तुम हार देखने के लिए तैयार हो जाओ।” उनकी बातें सुनकर कई पक्षी इस प्रतियोगिता को देखने के लिए वहाँ जमा हो गए। सभी पक्षियों के सामने हंस और कौआ दोनों समुद्र की ओर उड़े। पक्षियों को देखकर कौआ कई तरह के कलाबाजियाँ दिखाते हुए आसमान में उड़ने लगा। देखते ही देखते हंस से आगे निकल गया।

 

हंस अभी भी अपनी सामान्य गति से उड़ रहा था। यह देखकर वहाँ उपस्थित कई सारे कौए प्रसन्नता से व्यक्त करने लगे। कुछ ही दूर में कौए के पंख थकने लगे। वह विश्राम करने के लिए अपने आसपास के पेड़ की डालियों को खोजने लगा। लेकिन विशाल समुद्र में वह कई आगे निकल आया था। उसे अपने आसपास सिर्फ पानी ही पानी दिखाई दे रहा था। इतने समय में हंस उड़ता हुआ कौए से आगे निकल गया।

 

कौए की गति काफी धीमी हो गई थी। थकान के कारण अब उसके पंखो ने भी जवाब दे दिया था। अब कौआ पानी के सबसे करीब उड़ने लगा। कौए के पैर अब पानी में डूबने लगे थे। कौए को डूबता देख हंस कौए के पास आया और बोला, “मित्र! तुम्हारे पैर और पंख बार-बार पानी में डूब रहे हैं। यह तुम्हारी कौनसी कला है?” हंस की बात सुनकर कौआ बड़ी ही ग्लानि के साथ बोला, “मित्र! मुझे माफ़ कर दो, हम कौए सिर्फ कांव-कांव करना ही जानते हैं। हम भला इतनी ऊँची उड़ान कैसे भर सकते है? मुझे अपनी गलती का अहसास हो गया मित्र! मुझपर दया करो। मैं डूबने वाला हूँ, कृपा कर मेरे प्राण बचा लो।”

 

जल में डूबते हुए कौए को देखकर हंस को दया आ गई। उसने कौए को अपने पैरों पर पकड़कर समुद्र किनारे छोड़ दिया। इस तरह उस कौए की जान बच गई।

 

तो दोस्तों इस मोटिवेशनल स्टोरी से हमें एक अच्छा सीख मिलता है की हमें कभी भी घमंड नहीं करना चाहिए। क्यों की घमंड ज़ादा दिन तक टिक नहीं पाता है।

 

उम्मीद करता हूँ आपको यह  कहानी “घमंड किसी का नहीं टिकता | Best Motivational Story in Hindi” जरूर पसंद आई होगी। अगर पसंद आए तो अपने दोस्तों और परिवारजनों के साथ भी शेयर करे और इसी तरह मोटिवेशनल से भरी हुई कहानियां पढ़ने के लिए इस ब्लॉग को सब्सक्राइब करे। धन्यवाद।

 

यह भी पढ़े 

घोड़ा और किसान | Best Motivational Story In Hindi

गुरु और शिष्य | Best Motivational Story In Hindi

सबसे बड़ा मुर्ख कौन? | Inspirational Story In Hindi

 

Read More Motivational Story in Hindi

एक हिरण की प्रेरणादायक कहानी
मौत एक सच है, एक प्रेरक कहानी
दो मछुआरे की प्रेरणादायक कहानी
बंदर और सुगरी की एक प्रेरणादायक कहानी
एक कौवे की कहानी

 

Follow Me on Social Media

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *