लैला मजनूँ की सच्ची प्रेम कहानी | Laila Majnu True Love Story in Hindi

लैला मजनूँ की सच्ची प्रेम कहानी | Laila Majnu True Love Story in Hindi

 

लैला मजनूँ की सच्ची प्रेम कहानी | Laila Majnu Love Story in Hindi, आज की कहानी है लैला और मजनूँ के बारे में, उनकी प्रेम कहानी के बारे में जिनकी प्रेम कहानी को अमर माना जाता है। दोस्तों इस कहानी को पूरा जरूर पढ़े मुझे उम्मीद है आपको यह कहानी जरूर पसंद आएगी।

लैला मजनूँ की प्रेम कहानी

भारत-पाकिस्तान की सरहत पर श्रीगंगानगर जिले के बिजौर गाँव में एक मज़ार पर दिन ढलते ही सेकड़ो जोड़ी अपनी प्रेम की अमर होने की दुआ माँगते देखे जा सकते हैं। यह कोई और मज़ार नहीं है बल्कि दुनिया को अपनी बेईम्तिहा मोहब्बत से पहचान कराने वाले लैला-मजनूँ की कब्र पर बना है। यहाँ हर साल 15 जून को मेला लगता है जिसमे आने वालो का पूरा यकीन रहता है कि उनकी फरियाद यहाँ जरूर कबूल होगी।

 

दुनिया में सेकड़ो साल बाद भी लैला-मजनूँ की प्रेम कहानी अमर मानी जाती है। कहा जाता है कि लैला और मजनूँ एक दूसरे से बेपनाह मोहब्बत करते थे लेकिन उन्हें जुदा कर दिया गया था। उनके अमर प्रेम के चलते ही लोगों के उनके नाम के बीच और लगाना मुनासिफ नहीं समझा और दोनों हमेशा लैला-मजनूँ के नाम से ही पुकारे गए। यहाँ के लोग इस मज़ार को लैला-मजनूँ की मज़ार कहते हैं।

 

यह उस दौर की कहानी है जब प्रेम करना गुना माना जाता था। कायस, जिसे आगे चलकर मजनूँ कहा गया उनकी किस्मत में यह प्रेम रोग हाथ की लकीरों में ही लिखा था। उसे देखते ही ज्योतिषियों ने भविष्यवाणी की थी कि कायस प्रेम-दीवाना होकर दर-दर भटकता फिरेगा। ज्योतिषियों के भविष्यवाणी को झुठलाने के लिए कायस के पिता ने खूब मन्नते की जिससे उसका बेटा इस प्रेम रोग से महरूम रहे।

 

लेकिन कुदरत अपना खेल दिखाती ही है, जब उसने लैला को पहली बार देखा तो वह पहली नजर में ही कायस उसका आशिक हो गया।मौलबी ने उसे समझाया कि वह प्रेम की बातें भूल जाए और पढाई में अपना ध्यान लगाए। लेकिन प्रेम दीवाने ऐसी बातें कहाँ सुनते हैं। कायस की मोहब्बत का असर लैला पर भी हुआ और दोनों ही प्रेम सागर में डूब गए। नतीजा यह हुआ कि लैला को घर में कैद कर दिया गया और लैला की जुदाई में कायस दीवानो की तरह मारा-मारा फिरने लगा। उसकी दीवानगी देखकर लोगों ने उसे मजनूँ का नाम दिया। आज भी लोग उसे मजनूँ के नाम से ही जानते हैं।

 

लैला-मजनूँ को अलग करने की लाख कोशिशें की गई लेकिन सब बेकार साबित हुई। लैला की तो व्यक्त नामक व्यक्ति से शादी भी कर दी गई थी लेकिन उसने अपने सोहर को बता दिया कि वह सिर्फ मजनूँ की है। मजनूँ के अलावा उसे और कोई नहीं छू सकता। व्यक्त ने उसे तलाक दे दिया और मजनूँ के प्रेम में पागल लैला जंगल में मजनूँ-मजनूँ पुकारे भटकने लगी। जब लैला को मजनूँ मिला तो दोनों प्रेम के बंधन में बंध गए।

 

लैला के माँ ने फिर लैला को मजनूँ से अलग किया और फिर घर ले गई। मजनूँ के गम में लैला ने दम तोड़ दिया। लैला की मौत की खबर सुनकर मजनूँ भी चल बसा। लोगों का मानना है कि लैला-मजनूँ सिंध प्रांत के रहने वाले थे यह तो सब मानते है लेकिन उनकी मौत कैसे हुई इसके बारे में कइयों के कई मत है। कुछ लोगों का मानना है कि जब लैला के भाई को दोनों के इश्क़ के बारे में पता चला तो उससे बर्दाश्त नहीं हुआ और उसने क्रूर तरीके से मजनूँ की हत्या कर दी। लैला को जब इसका पता चला तो वह मजनूँ के शब के पास पहुँची और खुदखुशी कर जान दे दी।

 

कुछ लोगों का मत है कि घर से भागकर दर-दर भटकने के बाद यहाँ तक पहुँचे और प्यास से उन दोनों की मौत हो गई। वहीं कुछ लोग यह भी मानते है कि अपने परिवारवालों और समाज से दुखी होकर  उन्होंने एक साथ सुसाइड कर लिया था। जो भी हुआ हो लेकिन दोनों को साथ-साथ दफनाया गया ताकि इस दुनिया में न मिलने वाले लैला-मजनूँ जन्नत में जाकर एक हो जाए।

 

हर साल 15 जून को लैला-मजनू की मज़ार पर दो दिन का मेला लगता है जिसमे बड़ी संख्या में हिंदुस्तान और पाकिस्तान के प्रेमी और नविवाहित जोड़े आते हैं और अपने सफल विवाहित जीवन की कामना करते हैं। खास बात यह है कि इस मेले में सिर्फ हिंदू और मुस्लिम ही नहीं बल्कि बड़ी संख्या में सिख और ईसाई धर्म के लोग भी आते हैं। यहाँ आने वाले लोगों के मुताबिक यहाँ माँगी जाने वाली हर मन्नत या पवित्र मज़ार प्रेम के सबसे बड़े धर्म की एक मिशाल है। समय की गति ने उसके कब्र को नष्ट कर दिया है लेकिन लैला-मजनू की मोहब्बत ज़िंदा है और जब तक दुनिया है तब तक सायद ज़िंदा ही रहेगी।

 

दोस्तों अगर आपको यह स्टोरी “लैला मजनूँ की सच्ची प्रेम कहानी | Laila Majnu True Love Story in Hindi” पसंद आई हो तो कमेंट करके जरूर बताए और असेही और लव स्टोरीज पढ़ने के लिए हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करें।

 

यह भी पढ़े 

एक अधूरी प्रेम कहानी | Sad Love Story In Hindi

राज और प्रिया की प्रेम कहानी | Very Emotional Love Story In Hindi

अधूरा प्यार | Best Heart Touching Love Story In Hindi

 

Read More Love Stories in Hindi

Ek Sacchi Prem Kahani

Ek Bewafa Ladki ki Prem Kahani

राज और प्रिया की प्रेम कहानी

यह प्रेम कहानी आपको रोने पर मजबूर कर देगी

मुलाक़ात

Follow Me on Social Media

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *