The Wolf and The Lamb Story in Hindi

भेड़िया और मेमना | The Wolf and The Lamb Story in Hindi

(The Wolf and The Lamb Story in Hindi)

 

भेड़िया और मेमना 

 

एक बार, एक भेड़िया किसी पहाड़ी पर नदी में एक ऊँचे स्थान पर पानी पि रहा था। अचानक उसकी नजर एक भोले-भाले मेमने पर पड़ी। मेमना भी चुपचाप पानी पि रहा था।

 

भेड़िया मेमने को देखकर बहुत खुश हुआ। और सोचने लगा, “अरे बाह, बर्षो बीत गए मैंने किसी मेमने का मांस नहीं खाया। इसकी मांस तो बहुत मुलायम होगा। मेरे मुँह में तो पानी आ रहा है।” यह सोचकर भेड़िये ने उसे मारने की तरकीब निकाली और चिल्लाने लगा. “अरे गंदे जानबर क्या कर रहे हो? मेरे पानी को क्यों पि रहे हो? और इसे गन्दा क्यों कर रहे हो? यह देखो पानी में कितना कूड़ा करकट मिला दिया है तुमने।

 

मेमना बेचारा उस बिशाल भेड़िया को देखकर डर गया। भेड़िया बार-बार अपने होठ काट रहा था। और ललचाई नजरो से उस बेचारे छोटे मेमने को देख रहा था। उसके मुँह में पानी भर आया था।

 

 

मेमना डर से कापने लगा। भेड़िया उसके कुछ ही दूर में था। फिर भी मेमने ने हिम्मत जुटाई और कहा, “आप जहाँ पानी पि रहे है वह जगह ऊँची है। नदी का पानी मेरी तरफ निचे की ओर बह रहा है। तो ऊपर से बहकर निचे आते हुए पानी को भला मैं कैसे गंदा कर सकता हूँ।”

 

मेमने की बात सुनकर भेड़िये ने कहा, “(गुस्से से) खेर छोड़, यह बताओ एक साल पहले तुमने मुझे गाली क्यों दी थी।” भेड़िये की बात सुनकर मेमने ने कहा, भला ऐसे कैसे हो सकता है? एक बर्ष पहले तो मेरा जन्म भी नहीं हुया था। आपको जरूर कोई भूल हुहि है।”

 

मेमना इतना घबरा गया था की बोलने में भी लड़कड़ा रहा था। भेड़िये ने सोचा मौका अच्छा है और कहने लगा, “मुर्ख तुम एकदम अपने पिता के जैसे हो। ठीक है अगर तुमने गाली नहीं दी तो फिर वह तुम्हारा बाप होगा, जिसने मुझे गाली दी थी। एक ही बात है। फिर भी मैं तुम्हे नहीं छोडूंगा। मैं तुमसे बेहेस करके अपना भोजन नहीं छोड़ सकता।”  यह कहकर भेड़िया छोटे से मेमने के ऊपर टूट पड़ा और मेमने का शिकार कर लिया।

 

 

सीख- इस कहानी से हमे यह सिख मिलती है की बुरे और झगड़ालू किसम के लोग आपसे झगड़ा करने का कोई न कोई बहाना ढूंढ ही लेते है। ऐसे लोगो से जितना हो सके उतना दुरी बना ले। 

 

दोस्तों आपको यह कहानी ” भेड़िया और मेमना | The Wolf and The Lamb Story in Hindi”  कैसी लगी निचे एक कमेंट करके जरूर बताए और हमारे इस ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करें।

 

यह भी पढ़े:

2 thoughts on “भेड़िया और मेमना | The Wolf and The Lamb Story in Hindi”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *