You are currently viewing बाप, बेटा और गधा | Father, Son and Donkey Story in Hindi
Father, Son and Donkey Story in Hindi

बाप, बेटा और गधा | Father, Son and Donkey Story in Hindi

बाप, बेटा और गधा  Father, Son and Donkey Story in Hindi

बाप, बेटा और गधा

 

बहुत दिन पहले की बात है, एक बाप और उसका बेटा उनके  एक पालतू गधे को लेकर बाजार की तरफ जा रहे थे। वह दोनों गधे को लेकर गांव के रस्ते से जा रहे थे।

 

कुछ देर जाते ही, कुछ लोगो की आवाज उनको सुनाई दी। लोग बोलने लगे, “अरे देखो, कैसा मुर्ख आदमी है। गधा है, लेकिन उसका इस्तिमाल करना नहीं जानते। तुम में से कोई एक बैठ जाओ। गधे का तो काम ही है बोझ उठाना।

 

बाप कहने लगा, “यह लोग सही बोल रहे है। हम दोनों में से किसी एक को गधे के पीठ पर चढ़ जाना चाहिए। बेटा, तुम थके हुए लग रहे हो। थोड़ी देर तुम इस गधे के पीठ पर चढ़ जाओं। ”

 

यह बात कहकर बाप ने अपने बेटे को गधे के पीठ पर चढ़ा दिया। और चलना शुरू किया।

 

 

थोड़े ही दूर जाते ही एक किसान उन दोनों को देखकर जोर से बोलने लगा, “अरे कैसा बेटा है, बूढ़े बाप को पैदल चला रहा है। और खुद हट्टेकट्टे होकर भी गधे की सवारी कर रहा है। बाह, क्या दिन आ गया।”

 

किसान की बात सुनकर बेटे को बहुत बुरा लगा। और सोचने लगा, “यह किसान तो सही बोल रहा है। मैं  हट्टाकट्टा हूँ। पिताजी बहुत समय से चल रहा है। मैं उतर जाता हूँ।”   और फिर उसका बाप गधे  पीठपर  बैठ  गया।

 

थोड़ी देर चलते के बाद एक बूढ़ी औरत उन दोनों को ऐसे जाते देखकर बोलने लगा, ‘कैसे बाप  हो तुम? इतना स्वार्थी। खुद आरामसे जा  रहे हो। और अपने बेटे को पैदल चलवा रहे हो। बेचारा बच्चा कितना थक गया होगा।”

 

यह सुनकर किसान को बहुत शर्म आया। और फिर अपने साथ अपने बेटे को भी गधे के पीठ पर उठा लिया। और चलना शुरू किया।

 

 

ऐसे  थोड़ी दूर जाने के बाद,  उन दोनों को कुछ लोग बैठा हुआ मिला। किसान ने उन लोगो को पूछा, “सुनो, बाजार जाने का रास्ता यही है न।”

 

लोगो ने कहा, “तुम दोनों को क्या अकल नहीं है। एक बेचारा गधे के ऊपर दोनों आदमी सवार हुए हो। इस गधे का हालात तो ख़राब कर दिया है। ”

 

यह सुनकर बाप  और उसका बेटा, गधे से उतर गया।

 

बाप कहने लगा, “बेटा, यह लोग ठीक कह रहे है।  हम दोनों बहुत देर से इस इसके पीठे सवार हुए है। गधा बहुत थक गया होगा। एक काम करते है, इसको लाठी से बांधकर हम दोनों इससे बाकि की रास्ता ले चलती है।”

 

यह कहकर बाप और बेटे ने गधे को एक लकड़ी से बांध दिया। और फिर चल पड़ा। किसान और उसका बेटा, जब गधे को लेकर चलना शुरू किया। तो रास्ते में एक लकड़ी का पूल आया। पूल बहुत पुराना होने की बजह से  तीनों का भार ले न सका। और टूट गया। बाप बेटा और गधा पानी में गिर गई। पानी से निकलते ही बाप को अपनी गलती समझ में आ गया।

 

 

दोस्तों आपको यह कहानी “Father, Son and Donkey Story in Hindi” कैसी लगी, कमेंट करके अपना बिचार जरूर हमे बताये। और अगर आपको असेही मजेदार कहानियां पड़ना है तो इस ब्लॉग को सब्सक्राइब करे। आपका मूल्यबान समय देने के लिए धन्यवाद।

 

यह भी पढ़े:-

 

Sonali Bouri

मेरा नाम सोनाली बाउरी है और मैं इस साइट की Author हूँ। मैं इस ब्लॉग Kahani Ki Dunia पर हिंदी कहानी , प्रेरणादायक कहानी, सक्सेस स्टोरीज, इतिहास और रोचक जानकारियाँ से सम्बंधित लेख पब्लिश करती हूँ हम आशा करते है कि आपको हमारी यह साइट बेहद पसंद आएगी।

Leave a Reply