एक अधूरी प्रेम कहानी | Sad Love Story in Hindi

एक अधूरी प्रेम कहानी | Sad Love Story in Hindi

Ek Adhuri Sad Love Story in Hindi

 

एक अधूरी प्रेम कहानी 

प्रीति और आकाश एक दूसरे से कॉलेज के टाइम से प्यार करते थे। दोनों ने एक दूसरे से शादी करने का फैसला भी किया। दोनों की मंगनी भी हो चुकी थी और 2 महीने बाद दोनों की शादी होने वाली थी। लेकिन शादी से पहले कुछ ऐसा हो जाता हैं जिसकी उन दोनों ने कभी उमीद भी नहीं की थी।

 

एक दिन, आकाश के फ़ोन पर प्रीति का कॉल आता हैं।

 

प्रीति – हेलो, आकाश

 

आकाश – बोलो, प्रीति

 

प्रीति – I Miss You

 

आकाश – I Miss You 2 प्रीति। मुझे भी सुबह से तुम्हारी बहुत याद आ रही हैं। और पता नहीं आज सुबह से ही बहुत घबराहट सी हो रही हैं मुझे।

 

प्रीति – आकाश, क्या आप मुझसे मिलने आ सकते हो अभी

 

आकाश – हा, क्यों नहीं। मुझे भी तुमसे मिलने का बहुत मन कर रहा हैं।

 

 

प्रीति – ठीक हैं। मैं हॉस्पिटल में हूँ। जल्दी आना। में इंतिज़ार कर रहा हूँ आपका।

 

आकाश – (घबराते हुए) क्या हुआ, प्लीज बताओ मुझे।

 

प्रीति – कुछ नहीं, बस सुबह चक्कर आ गया था। आप मेरे पास जल्दी से आ जाओ।

 

आकाश जब तक कुछ बोल पता, दिशा ने फ़ोन काट दिया। आकाश जल्दी से हॉस्पिटल पहुँचता हैं। हॉस्पिटल में प्रीति बेहोश होती हैं। प्रीति के पापा वहां मौजूत होते हैं। आकाश प्रीति के पापा से पूछता हैं –

आकाश – अंकल, क्या हुआ प्रीति को?

 

प्रीति के पापा – (रोते हुए) बेटा, प्रीति को ब्लड कैंसर हैं और वे भी आखरी स्टेज पर। डॉक्टर कह रहे हैं की उसके पास बहुत कम समय हैं। प्रीति को यह सब मालूम नहीं हैं। प्लीज बेटा, तुम उसे कुछ मत बताना।

 

प्रीति के पापा की यह सब बातें सुनकर आकाश बहुत लड़खड़ा जाता हैं। थोड़े देर के लिए उसके आँखों के आगे अँधेरा छा जाता हैं।  कुछ देर बाद प्रीति को होश आता हैं और वे अपने पापा से आकाश के बारेमे पूछती हैं। उसके पापा बहार जाकर आकाश को बुलाता हैं। आकाश दौड़कर प्रीति के पास जाती हैं।

 

 

आकाश – प्रीति, कैसी हो तुम?

 

प्रीति – आप आ गए न अब सब कुछ ठीक हो जायेगा।

 

आकाश – हा, सब कुछ ठीक हो जायेगा। लेकिन देखो हमारी शादी को सिर्फ 2 महीने बाकि हैं और तुमने अपनी तबियत खराप कर ली हैं। ठीक से खाना खाया करो न।

 

प्रीति – ठीक हैं आकाश। मैं अब ठीक से खाना खाऊँगी और आपकी हर बात मानूंगी।

 

(आकाश रोना चाहता हैं लेकिन रो नहीं पाता हैं)

आकाश – (रोते हुए ) अब तुम जल्दी से ठीक हो जाओ। भगवान करे तुम्हे मेरी भी उम्र लग जाये।

 

यह कहते हुए आकाश प्रीति के सिर को अपने बाहों में रख लेता हैं।

 

दिशा – आप रोइये नहीं, मैं जल्दी से ठीक हो जाऊँगी। अपने हमेशा मेरा बहुत ख़याल रखा हैं। क्या थोड़ी देर में आपके बाहों में ऐसे ही लेटी रहु?

 

 

आकाश रोते हुए प्रीति के सिर को सहलाने लगता हैं। तभी आकाश को यह एहसास होता हैं की उसकी प्रीति अब नहीं रही। लेकिन तब भी आकाश बिना कुछ कहे प्रीति को अपने बाहों में थामे रखता हैं और उसके आँखों से आंसू बहने लगते हैं।

 

थोड़ी देर बाद प्रीति के पापा अंदर आए। उसने देखा की उसकी बेटी ने आकाश की बाहों में अपना दम तोड़ दिया और आकाश भी अपने बाहों में प्रीति को पकड़ कर बैठा हुआ हैं।

 

तो दोस्तों आपको यह लव स्टोरी “एक अधूरी प्रेम कहानी | Sad Love Story in Hindi” कैसी लगी कमेंट करके जरूर बताये और ऐसेही और “Sad Love Story” पड़ने के लिए इस ब्लॉग को सब्सक्राइब करे।

 

यह भी पढ़े:-

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *