बिल्ली के गले में घंटी | Belling The Cat Hindi Story

बिल्ली के गले में घंटी | Belling The Cat Hindi Story

Belling The Cat Hindi Story

 

बिल्ली के गले में घंटी

बहुत बड़े मकान में सेकड़ो चूहे रहते थे।  उन सबकी जिंदगी हंसते खेलते फुदकते और बड़े आनन्द से गुजर रही थी। परन्तु एक दिन, अचानक घर का मालिक एक बिल्ली उठा लाया। 

 

बिल्ली के आने से चूहों की तो जैसे शामत आ गई हो। बिल्ली बहुत डरावनी थी। उसे ढेर सारा दूध पीने को मिलता था।  लेकिन फिर भी उसकी संतुष्टि नहीं हो रही थी। वह बिल्ली घंटो तक लेटी रहती चार पांच चूहे तो वह रोज पकड़ कर खा जाती।

 

समस्या दिन ब दिन गंभीर होती जा रही थी। परेशान होकर सभी चूहों ने सभा बुलाई, जिसमे हर छोटा बड़ा चूहा शामिल हुआ।

 

एक चूहे ने कहा, “हमे इस मुशीबत से छुटकारा पाना ही होगा। भाइयो अपना अपना सुझाब दो की इस चूहे को कैसे मारा जाये या कैसे उससे पीछा छुडाया जाये।”

 

बहुत समय तक सभी चूहे सोचने लगे।

 

काफी समय बाद एक छोटा सा चूहा आगे बड़ा और बोला, “क्यों न बिल्ली के गले में घंटी बांध दे? जहाँ कही भी वह बिल्ली जाएगी, घंटी की आवाज आएगी और हम अपने अपने बिल में छुप जायेंगे तो बिल्ली हमारा कुछ भी नहीं बिगाड़ पायेगी।”

 

छोटे चूहे की इस शानदार सुझाब को देने के लिए सभी चुहे जोर जोर से तालियाँ बजाने लगे।

 

सभी चूहे कहने लगे, “अरे बाह यह तो सचमुच बहुति बढ़िया उपाय है। इस छोटे चूहे ने तो बहुत अच्छा बिचार दिया है।  लगता है अब हमारे फिर सुहाने दिन लौटने वाले है।  अब हमे उस बिल्ली से डरने की कोई जरुरत नहीं है।  अब हम सब चूहे आराम से रहेंगे सदा के लिए हमे मुशीबत से छुटकारा मिल जायेगा।  इस छोटे चूहे ने तो सदा के लिए हमारे चिंता का अंत कर दिया इसे तो सम्मान मिलना चाहिए।”

 

एक बड़ा चूहा जो चुपचाप एक कोने में बैठा हुआ यह सारी बातें सुन रहा था, वह बोल उठा, “सुनो, जरा मेरी भी बात सुनो, तुम सब एक बात भूल रहे हो।”

 

तभी एक चूहे ने कहा, “कौनसी बात?”

 

तभी बड़ा चूहा बोला, “एक बात तो बताओ, बीली के गले में घंटा बांधेगा कौन?”

 

ऐसा खतरनाक काम तो किसी भी चुहे में करने की साहस नहीं थी। सभी चूहे एक दूसरे का मुँह ताकते रह गए। अचानक बिल्ली की आवाज आई। बिल्ली की आवाज सुनकर सभी चूहे अपनी जान बचाने के लिए अपनी अपनी बिलों में घुस गए।

 

शिक्षा – इस कहानी से हमें यह सीख मिलती है की “सुझाब देना आसान तो होता है लेकिन उसे करना बहुत मुश्किल है.”

 

दोस्तों आपको यह कहानीबिल्ली के गले में घंटी | Belling The Cat Hindi Story कैसी लगी, कमेंट करके अपना बिचार जरूर हमे बताये और अगर आपको असेही मजेदार कहानियां पड़ना है तो इस ब्लॉग को सब्सक्राइब करे। आपका मूल्यबान समय देने के लिए धन्यवाद।

 

यह भी पढ़े:-

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *