La Llorona की खौफनाक कहानी | The Real Story of La Llorona in Hindi

La Llorona की खौफनाक कहानी | The Real Story of La Llorona in Hindi

Real Story of La Llorona in Hindi

नमस्कार दोस्तों, आप सभी का मेरे ब्लॉग पर स्वागत है। मेरा नाम है सोनाली और मैं आप सबके लाई हूँ एक बार फिरसे एक Real Story, जो की है La Llorona (The Real Story of La Llorona in Hindi) के बारे में। तो चलिए दोस्तों कहानी शुरू करते है। 

La Llorona की खौफनाक कहानी

मौत, एक ऐसी अप्रिय घटना जिसका सामना कोई नहीं करना चाहता। कोई नहीं चाहता की उसके साथ ऐसा कुछ हो जो उस व्यक्ति विशेष या उसके सम्बन्धियों के लिए बुरा हो। लेकिन क्या हो अगर यह मौत एक ऐसा रूप ले जिसकी ओर इंसान जाए बिना रह न सके। जिसे देखती ही इंसान खुद पर काबू खो बैठे तो क्या हो? 

आज हम आपसे एक ऐसे सक्स के बारे में बताने जा रहे है जिसके डर से मैक्सिको के उत्तरी भाग के बच्चे बच्चे की रूह काँप जाती थी। एक ऐसी बला के बारे में जो अपने ख़ूबसूरती के लिए जितना मशहूर थी अपने कारकर्तिके के चलते उतना ही बदनाम भी थी। जिसका नाम है La Llorona (The Real Story of La Llorona in Hindi).

मैक्सिको की यह दिलकश हसीना रहा करती थी मैक्सिको की उत्तरी भाग में। और इसका असली नाम था मारिया। मारिया अपने ख़ूबसूरती के लिए आसपास के इलाकों में सुप्रसिद्ध थी। उसके शहर में रहने वाला हर नौजवान मारिया पर फ़िदा था। और हर शाम जब मारिया अपना पसंदीदा सफ़ेद ग्रोन पहनकर निकलती थी तो बहुत खूबसूरत लगती थी। 

 

एक दिन बाजार में उसे एक नौजवान मिला जो मारिया को देखते ही उसके रूप से मोहित हो गया। और मारिया को भी वह व्यक्ति बहुत पसंद आया। उस लड़के ने मारिया के सामने शादी का प्रस्ताव रखा। और दोनों ने जल्दी ही शादी करके एक खुशाल जीवन बिताना शुरू कर दिया। 

 

मारिया सदा ही खुश रहा करती थी। क्यूंकि वह अपने निजी जीवन से बहुत खुश थी। उसका पति उसे बहुत खुश रखता था। दिन गुजरते गए। और मारिया के दो बेटे हुए। लेकिन मारिया का पति अब पहले की तरह उससे प्यार नहीं करता था। मारिया के व्यक्तिगत और भाबनात्मक जरूरतों के पूरा न होने के कारन मारिया अब पहले जितनी खुश नहीं थी। 

 

 एक दिन मारिया का पति किसी काम के सिलसिले में दूसरे शहर गया। और फिर कभी वापस नहीं लौटा। मारिया कई दिनों तक अपने पति का इंतजार करती रही। और उसके ख्याल में रो-रो कर बुरा हाल कर लिया। अब वह पहले जितनी सुन्दर नहीं रही थी। 

 

एक दिन नदी किनारे, अपने दोनों बच्चों के साथ घूमते वक़्त मारिया ने अपने पति को किसी और महिला के साथ घोड़ा गाड़ी में जाते हुए देखा। उसके पति ने अपने बच्चों की तरफ मुस्कुराकर देखा। लेकिन मारिया को पूरी तरह से अनदेखा कर दिया मानो वह मारिया को जानता ही नहीं हो। इस घटना के बाद मारिया बहुत गुस्सा हुई। और गुस्से में आकर मारिया ने यह फैसला किया वह अपने पति की आखरी निसानी यानि उन दो बच्चों को ख़तम कर देगी। ऐसा फैसला मारिया ने प्रतिशोध की भाबना से लिया। क्यूंकि उसका पति अपने बच्चों से बहुत प्यार करता था। 

 

मारिया ने गुस्से में आकर अपने दोनों बच्चों को नदी में डुबाकर मार दिया। जब तक मारिया ने अपना होश संभाला तब तक बहुत देर हो चुकी थी। उसके दोनों बच्चों की मौत हो चुकी थी। और उनके शब् नदी में बहते चले जा रहे थे। मारिया ने एक बार तो अपने बच्चों को नदी से बाहर निकालने की कोशिश तो कि लेकिन नदी का प्रभाब ज्यादा होने के कारन उसके बच्चे नदी में बह गए। 

 

The Real Story of La Llorona in Hindi

मारिया को अपने किए का बहुत अफ़सोस हुआ। और अपने किए पर शर्मिंदा और दुखी होने के कारन कुछ ही दिनों बाद मारिया के भी मौत हो गई। अपने जघन्य अपराध के कारन सायद मारिया के आत्मा को मुक्ति नहीं मिला। और वह एक बार फिर जाग गई। उसकी आत्मा उसी नदी और मारिया के घर के आसपास के इलाकों में भटकने लगी। 

 

मारिया के मौत के कुछ ही दिनों बाद वहाँ के सारे निवासियों ने यह दावा करना शुरू कर दिया की उन्हें सफ़ेद ग्रोन में एक महिला रात के वक़्त दिखाई देती है। सुरुवात में इन बातों पर किसी ने भी गौर नहीं किया। लेकिन कुछ ही समय बाद उन गांव से बच्चों के गायब होने की घटनाएं सामने आने लगी। साथ ही ऐसे लोगों के संख्या में भी यह चर्चा होने लगा जो कह रहे थे की उन्होंने एक सफ़ेद ग्रोन वाले महिला को देखा है जो अक्सर नदी के पास बैठी रोटी रहती है। उसके रोने की आवाज में दुःख भी है और एक अजीब सा डरा देने वाला भय भी है। 

 

कुछ लोगों ने बताया की अगर कोई उस रोती हुई महिला के पास जाता है तो वह महिला अचानक गायब हो जाती है। लेकिन उसकी रोने  की आवाज फिर भी आती रहती है। और वह आवाज इतनी भयानक होती है की अगर कोई उस आवाज को सुनले तो उसके कानो में वह आवाज काफी दिनों तक गूंजती रहती है। 

 

कुछ ही दिनों में एक और बच्चे की गायब होने की घटना सामने आई। और गांव वालो को नदी के दूसरे किनारे पर अलेजांद्रो नाम का एक 15 साल का बच्चा अचेत हालात में मिला। होश आने पर बच्चे ने जो बातें गांव के लोगों को बताया उसे सुनकर हर किसी के होश उड़ गए। अलेजांद्रो ने बताया की जब वह नदी किनारे बैठा था तो उसने देखा एक सफ़ेद ग्रोन पहनी महिला अचानक रोते हुए नदी के पानी से बाहर निकली। उसका चेहरा बेहद डराबना था। और उसकी रोने की आवाज बहुत खौफनाक थी।

 

वह महिला पानी से बाहर निकली और अपने सामने खड़े बच्चे को एक ध्यान में देखता रहा। उस महिला के देखने मात्र से वह बच्चा उस महिला की और खींचता चला गया। और देखते ही देखते वह बच्चा उस महिला के पास पानी में पहुँच गया। वह महिला रोती रही और उस बच्चे को पानी में डुबाने लगी। देखते ही देखते वह महिला गायब हो गई और उस बच्चे का शब् पानी के ऊपर दिखाई देने लगा। और पानी का बहाब उसके शरीर को अपने साथ बहा ले गया। यह देख अलेजांद्रो बहुत डर गया और वही बेहोश होकर गिर पड़ा। 

 

इस घटना के बाद वहाँ के लोग समझ गए की हो न हो इन घटनाओ का कारन मारिया की भटकती आत्मा ही है। क्यूंकि वह आत्मा हमेशा रोते हुए ही दिखाई देती थी। इसलिए वहाँ के लोगों ने इस आत्मा का नाम दे दिया La Llorona (The Real Story of La Llorona in Hindi) इसका इंगलिश में अनुबाद है The Weeping Women यानि रोती हुई महिला। और तभी से इस La Llorona (The Real Story of La Llorona in Hindi) का खौफ पुरे मैक्सिको पर हावी होने लगा। 

 

एक समय ऐसा भी आया जब लोग अपने बच्चे को बाहर तक नहीं जाने देते थे। La Llorona (The Real Story of La Llorona in Hindi) के खौफ से सन 1960 तक भी मैक्सिको के कुछ भागो में महिलाएं अपने बच्चों को स्कूल तक भेजने में कतराती थी। क्यूंकि La Llorona (The Real Story of La Llorona in Hindi) के खौफ का शिकार छोटे उम्र के बच्चे ही हुआ करते थे। लोगों का मानना है की La Llorona (The Real Story of La Llorona in Hindi) की आत्मा आज भी अपने अगले शिकार के तलाश में घूम रही है।

 

लोगों का कहना है की La Llorona (The Real Story of La Llorona in Hindi) आज भी अपने बच्चों को ढूंढ रही है। और जब भी उसे अपने बच्चों की उम्र का कोई बच्चा दिखाई देता है तो वह उसके पास जाती है। लेकिन जब वह यह देखती है की वह बच्चा मारिया यानि La Llorona (The Real Story of La Llorona in Hindi) का बच्चा नहीं है तो वह उस बच्चे को भी मार देता है। और अचानक से वहाँ गायब हो जाती है। 

 

कुछ लोगों का यह भी कहना है की जो भी La Llorona (The Real Story of La Llorona in Hindi) को देख लेता है उसका बुरा समय शुरू हो जाता है। इस बात में कितनी सच्चाई है यह तो सायद कोई नहीं जान सकता। लेकिन इस बला की ख़ूबसूरती में लिपटी मौत के बारे में  सुनकर एक भयानक खौफ मन में बैठा रहता है। 

 

तो दोस्तों आपको इस “La Llorona की खौफनाक कहानी | The Real Story of La Llorona in Hindi” कहानी में कितनी सच्चाई नजर आती है। क्या वाक़ई La Llorona (The Real Story of La Llorona in Hindi)  सिर्फ एक किस्सा या कहानी है या फिर कोई सच्ची घटना कमेंट करके अपना विचार जरूर हमारे साथ शेयर करे। 

 

यह भी पढ़े:-

  • Annabelle Doll की डराबनि कहानी, सुनकर दंग रह जाएंगे | Annabelle Doll Real Story In Hindi
  • पिरामिड की असली कहानी | The Real Story Of The Pyramid In Hindi
  • ताजमहल का इतिहास और रहस्य | The Real History Of Taj Mahal In Hindi
  • दुनिया का सबसे बड़ा जहाज टाइटैनिक डूबने की कहानी | The Real Story Of Titanic In Hindi
  • Bloody Mary राज की कहानी | Bloody Mary Real Story In Hindi | Bhooto Ki Kahani
 
 

 

Follow Me on Social Media

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *