Annabelle Doll की डराबनि कहानी, सुनकर दंग रह जाएंगे | Annabelle Doll Real Story in Hindi

Annabelle Doll Real Story in Hindi

 

Annabelle Doll की डराबनि कहानी

 (Annabelle Doll Real Story in Hindi) इस कहानी की सुरुवात होती है सन 1870 में। एक लड़की थी जिसका नाम था डोना। उसके माँ ने उसके जन्मदिन पर उसे एक डॉल (Doll) गिफ्ट करि। उस लड़की को पहले से ही गुड़ियों का बहुत शोक था। इसलिए वह अब तक उन चीजों से खेलती थी। डोना उस समय मेडिकल की पढाई कर रही थी। और एक अप्पार्टमेन्ट में भाड़े में रहती थी। उसके साथ उसकी एक रूममेट भी रहती थी जिसका नाम था एंजी।
जब उसकी माँ ने डोना को डॉल (Doll) गिफ्ट में दी तब डोना ने उसे खुश होकर अपने पास रख लिया और अपने बिस्तर पर रख दिया। पर कुछ देर बाद उन्होंने यह नोटिस किया की वह डॉल (Doll) एक जगह से दूसरी जगह पर जा चुकी थी। ऐसा रोज रोज होने लगा। जब वह कॉलेज से वापस आती तो उस डॉल (Doll) की जगह बदल जाती थी।
एक दिन डोना उस डॉल (Doll) को अपने रूम के बिस्तर पर रखके गई। वापस आने पर उसने देखा की वह डॉल (Doll) हॉल के सोफे पर पड़ी थी। धीरे-धीरे यह घटनाएं बढ़ती चली जा रही थी। और एक दिन जब डोना और उसकी दोस्त कॉलेज से वापस आए तब उन्होंने देखा उनके उनके रूम में ढेर सारे पेपर जिनपर लिखा था Help! Help! इस बात से वह दोनों घबरा गई पर उन्होंने इस बात को इग्नोर कर दिया।
एक दिन जब दोनों घर पहुँचे तब उन्होंने देखा की वह डॉल (Doll) रो रही थी। और उसके आँखों से खून के आँसू निकल रहे थे। इस बात से वह दोनों इतना घबरा गई की उन्होंने पैरानॉर्मल एक्सपर्ट (Paranormal Expert) को बुलाया। उस एक्सपर्ट ने उस डॉल (Doll) को चेक करके बताया की उसमे एक मरी हुई आत्मा का बास है। जिसका नाम था एनाबेल हिगंस (Annabelle Higgins) . जब उस एक्सपर्ट ने उस डॉल (Doll) से बात करने की कोशिश की तब उसने बताया की कई साल पहले वह इसी जगह पर रहती थी, जहाँ अब वह दोनों लड़किया रहती है। उसने यह भी कहा की उसकी मौत सिर्फ सात साल की उम्र में हो गई थी। आगे उस डॉल (Doll) ने कहा की वह उन दोनों लड़कियों के साथ सेफ महसूस करती है। और उस एक्सपर्ट के जरिये डॉल (Doll) ने उनसे पूछा की क्या वह उनके साथ रह सकती है?
वह दोनों लड़किया तब मेडिकल की पढाई कर रही थी और लोगों का भला करना उनका काम था। इसलिए उन दोनों लड़कियों ने उस डॉल (Doll) पर दया करके उसे अपने साथ रख लिया। कुछ दिनों बाद डोना और एंजी का एक दोस्त जिसका नाम था लौ, वह भी उनके साथ रहने के लिए आ गया। और लौ एक दूसरे कमरे में रहने लगा। लौ को उस डॉल (Doll) में बहुत गड़बड़ महसूस होती थी। और वह उन दोनों से कहने लगा की इस डॉल (Doll) को दूर फेक आओ। पर पैरानॉर्मल एक्सपर्ट ने कहा था की वह डॉल (Doll) सिर्फ सात साल की लड़की की आत्मा है। और वह किसी को भी नुकशान नहीं पहुँचाएगी बल्कि वह सिर्फ प्यार चाहती थी। पर डोना नहीं जानती थी की लौ की बात न मानकर वह कितनी बड़ी भूल कर रही है।
Annabelle Doll Real Story in Hindi
Annabelle Doll Real Story in Hindi
एक रात जब लौ अपने कमरे में सो रहा था तब आधी रात को उसकी नींद खुली। तब उसने महसूस किया की वह खुदको हिला नहीं पा रहा है। और वह घबरा गया। तभी उसे बच्चे की हँसी सुनाई दी। जब उसने दूसरी तरफ देखा तो Annabelle Doll  (Annabelle Doll Real Story in Hindi) उसकी तरफ ही चली आ रही थी। लेकिन वह अपने शरीर को हिला नहीं पा रहा था। Annabelle Doll उसके शरीर पर आकर रुक गई। और उसे घूरने लगी। फिर वह बेहोश हो गया।
अगले दिन जब उसे होश आया तो वह बहुत डरा हुआ था। और समझ नहीं पा रहा था की जो घटना कल रात उसके साथ घटी वह सच है या उसका कोई भ्रम। एक दिन लौ और एंजी घर में एकेले थे तब उन्हें अपने कमरे से एक अजीब आवाज सुनाई दी। उन्हें लगा की कोई चोर अंदर घुस आया है। पर जब लौ ने उस कमरे में जाकर देखा तब वह रूम बिलकुल खाली पड़ा था। और फर्स पर वही Annabelle Doll  (Annabelle Doll Real Story in Hindi) गिरी पड़ी थी। फिर लौ को अपने चेस्ट पर बहुत दर्द महसूस होने लगा मानो कोई उसे नोचे जा रहा हो। जब उसने अपने कपड़े खोले तो देखा तो उसके शरीर में कई बड़े और गहरे नाखूनों के निशान थे। और उनमे से खून निकल रहा था।
धीरे-धीरे उस घर में ऐसी अजीब से घटनाएं घटती चली गई। पर डोना और एंजी को यह लग रहा था की कोई सात साल की बच्ची ऐसा कर ही नहीं सकती। पर लौ के कहने पर उन्होंने एक प्रीस्ट को बुलाया जिनका नाम था फादर हेगन। पर फादर हेगन को ऐसा लगा की वह इस काम के लिए सही नहीं है। उनका मानना था की ऐसे आत्माओं की जांच के लिए किसी बड़े प्रीस्ट को बुलाना चाहिए। इसलिए उन्होंने बहुत बड़े प्रीस्ट फादर कुक से कांटेक्ट किया। और फादर कुक ने ऐड और वारेन से कांटेक्ट किया।  जब इन्होने उस Annabelle Doll  (Annabelle Doll Real Story in Hindi) की जांच की तब उन्हें पता लगा की इस डॉल (Doll) में किसी सात साल की बच्ची की आत्मा नहीं बल्कि एक सेतान की आत्मा थी। और वह सेतान एक बच्ची बनने का नाटक कर रहा था। और उसका मकसत प्यार पाना नहीं बल्कि डोना जो उसके किसी दोस्त के शरीर पर कब्जा करना था।
यह जाननेके के बाद डोना बहुत ही ज्यादा घबरा गई। और उसने Annabelle Doll  (Annabelle Doll Real Story in Hindi) को ऐड और लॉरेन वारेन के हवाले कर दी। ऐड और लॉरेन वारेन उसे अपने साथ लेकर जाने लगे। जब वह उस Annabelle Doll  (Annabelle Doll Real Story in Hindi) को अपने गाड़ी के पिछले सीट पर रखकर घर जा रहे थे तब उन्हें कुछ अजीब सा महसूस होने लगा। और अचानक ही गाड़ी की स्टेरिंग और ब्रेक लॉक होने लगी। और एक जगह गाड़ी का संतुलन पूरी तरह से बिगड़ गया। तब उन्होंने हौली वाटर (Holly Water) छिड़ककर उस Annabelle Doll  (Annabelle Doll Real Story in Hindi) को शांत किया। और वह कामियाब हो गए। आखिर में वह अपने घर पहुँच गए। पर उनके घर में भी वह Annabelle Doll एक जगह से दूसरी जगह जाने लगी।
उसके बाद उन्होंने एक कैथोलिक प्रीस्ट फादर जैसन ब्रैडफोर्ड को बुलाया। उन्होंने Annabelle Doll  (Annabelle Doll Real Story in Hindi) को उठाया और कहा. “तुम सिर्फ एक डॉल (Doll) हो। और तुम किसी को नुकशान नहीं पहुँचा सकती। और यह बात कहकर वह अपने घर की ओर चले गए। और थोड़ी देर बाद उन्होंने ऐड और लॉरेन वारेन को फ़ोन करके बताया की वह एक एक्सीडेंट में मरने से बार-बार बचे है। तब ऐड और लॉरेन वारेन ने यह फैसला किया की वह इस  Annabelle Doll  (Annabelle Doll Real Story in Hindi) को एक विशेष लकड़ी के बक्से में रखेंगे। और उस Annabelle Doll  (Annabelle Doll Real Story in Hindi) को म्युज़िअम में रखा जाएगा जहाँ वह आज भी रखी हुई है। अब Annabelle Doll  (Annabelle Doll Real Story in Hindi) एक लकड़ी के बक्से में बंद है। पर इसका मतलब यह नहीं है की वह किसी को नुकशान नहीं पहुँचा सकती।
एक दिन  ऐड और लॉरेन वारेन का एक रिलेटिव आया। तब उन्होंने अपने रिलेटिव को इस  Annabelle Doll  (Annabelle Doll Real Story in Hindi) के बारे में बताया। पर उस रिलेटिव ने बिना कुछ जाने ही उस  Annabelle Doll  (Annabelle Doll Real Story in Hindi) का मजाक उड़ाया। अगले शाम जब वह अपने दोस्त के साथ बाइक पर जा रहा था तभी उसके बाइक का एक्सीडेंट हो गया। जिसमे उसकी दोस्त तो बच गई लेकिन वह आदमी मर गया। बाद में उसकी दोस्त ने बताया की वह  Annabelle Doll  (Annabelle Doll Real Story in Hindi) के बारे में ही बातें करते हुए जा रहे थे और उसका मजाक उड़ा रहे थे। तभी उस बाइक का कण्ट्रोल अचानक से बंद पड़ गया। और उन दोनों का एक्सीडेंट हो गया।
आज भी  Annabelle Doll  (Annabelle Doll Real Story in Hindi) उसी म्युज़िअम में रखी हुई है और यह दुनिया की सबसे श्रापित डॉल (Doll) मानी जाती है।

Annabelle Doll की असली तस्वीर

 

Annabelle Doll Real Story in Hindi
Annabelle Doll Real Story in Hindi
 
तो दोस्तों आपको यह कहानीAnnabelle Doll Real Story in Hindi” कैसी लगी कमेंट में जरूर बताइए और ऐसेही और भी कहानी पढ़ने के लिए इस ब्लॉग को सब्सक्राइब करे।

यह भी पढ़े:-

  1. Bloody Mary राज की कहानी | Bloody Mary Real Story In Hindi
  2. दुनिया का सबसे बड़ा जहाज टाइटैनिक डूबने की कहानी | The Real Story Of Titanic In Hindi
  3. ताजमहल का इतिहास और रहस्य | The Real History Of Taj Mahal In Hindi
  4. पिरामिड की असली कहानी | The Real Story Of The Pyramid In Hindi
  5. एक शैतान की असली कहानी | The Real Story Of Lucifer In Hindi
  6. La Llorona की खौफनाक कहानी | The Real Story Of La Llorona In Hindi
Follow Me on Social Media

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *